भारत-चीन के बीच तनाव बढ़ने से शेयर बाजार में गिरावट, सेंसेक्स 250 अंक नीचे, डूबे 46 हजार करोड़

भारत-चीन के बीच तनाव बढ़ने से शेयर बाजार में गिरावट, सेंसेक्स 250 अंक नीचे, डूबे 46 हजार करोड़
कुछ मिनटों में निवेशकों के 46 हजार करोड़ रुपये स्वाहा हो गए हैं

BSE का 30 शेयरों वाला प्रमुख बेंचमार्क इंडेक्स सेंसेक्स (Sensex Crashed) ऊपरी स्तर से 250 अंक गिरकर 333,371 के स्तर पर आ गया है. वहीं, एनएसई की 50 शेयरों वाले प्रमुख इंडेक्स निफ्टी (Nifty Crashed) में ऊपरी स्तर से 70 अंक की गिरावट आई है.

  • Share this:
नई दिल्ली. बुधवार को भारतीय शेयर बाजार (Stock Market Live Update) की शुरुआत गिरावट के साथ हुई है. भारत और चीन के बीच तनाव बढ़ने की खबरों की असर दोनों प्रमुख बेंचमार्क इंडेक्स सेंसेक्स और निफ्टी पर दिख रहा है. BSE का 30 शेयरों वाला प्रमुख बेंचमार्क इंडेक्स सेंसेक्स (Sensex Crashed) ऊपरी स्तर से 250 अंक गिरकर 333,371 के स्तर पर आ गया है. वहीं, एनएसई की 50 शेयरों वाले प्रमुख इंडेक्स निफ्टी (Nifty Crashed) में ऊपरी स्तर से 70 अंक की गिरावट आई है. एक्सपर्ट्स का कहना है कि अगर तनाव और बढ़ता है तो बाजार में तेज बिकवाली देखने को मिल सकती है.

अब आगे क्या होगा- वीएम पोर्टफोलियो के हेड विवेक मित्तल का कहना है कि भारत और चीन के बीच टेंशन बढ़ने की वजह से शेयर बाजार में गिरावट आई है. वहीं, इस खबर के बाद कुछ मिनटों में निवेशकों के 46 हजार करोड़ रुपये स्वाहा हो गए हैं. लेकिन, मौजूदा समय में भारत और चीन की ओर से किसी भी तरह का तनाव बढ़ाने वाला बयान नहीं आ रहा है. ऐसे में बाजार को पूरी उम्मीद है कि जल्द ये तनाव खत्म हो जाएगा.

अब क्या करें निवेशक- विवेक बताते हैं कि मौजूदा समय में निवेशकों को शेयर बाजार में नए निवेश से बचना चाहिए. अगर पुराना निवेश है तो उसे बरकरार रख सकते है.



नोमुरा ने HPCL पर Neutral रेटिंग दी है और लक्ष्य को 185 रुपये तय किया है. उनका कहना है कि चौथी तिमाही में कंपनी के नतीजे कमजोर रहे हैं.
CREDIT SUISSE ने HPCL पर Neutral रेटिंग दी है और लक्ष्य को 180 रुपये तय किया है. उनका कहना है कि Q4 में कर्ज में 14,400 की बढ़ोतरी हुई है.

IDFC SEC ने NMDC पर Outperform रेटिंग दी है और लक्ष्य को 111 रुपये से घटाकर 107 रुपये तय किया है.

EDELWEISS SEC ने NMDC पर Hold रेटिंग दी है और लक्ष्य को 97 रुपये से घटाकर 92 रुपये तय किया है.

ये भी पढ़ें-India-China Rift: 'कैट' ने लिया इन 500 चीनी उत्पादों का बहिष्कार का निर्णय, देखें सूची 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज