Home /News /business /

bse shares surge ahead of record date for bonus issue mlks

बोनस शेयर की रिकॉर्ड डेट से एक दिन पहले भागा BSE का मल्टीबैगर शेयर

बीएसई लिमिटेड के शेयर (BSE Ltd share) सोमवार के शुरुआती सौदों में नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर 3% से अधिक बढ़कर ₹972 के स्तर पर पहुंच गए.

बीएसई लिमिटेड के शेयर (BSE Ltd share) सोमवार के शुरुआती सौदों में नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर 3% से अधिक बढ़कर ₹972 के स्तर पर पहुंच गए.

बीएसई लिमिटेड के शेयर (BSE Ltd share) सोमवार के शुरुआती सौदों में नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर 3% से अधिक बढ़कर ₹972 के स्तर पर पहुंच गए. यह स्टॉक बोनस शेयर इश्यू करने वाला है और कल मंगलवार, 22 मार्च 2022, को इसकी रिकॉर्ड डेट है.

नई दिल्ली. बीएसई लिमिटेड के शेयर (BSE Ltd share) सोमवार के शुरुआती सौदों में नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर 3% से अधिक बढ़कर ₹972 के स्तर पर पहुंच गए. यह स्टॉक बोनस शेयर इश्यू करने वाला है और कल मंगलवार, 22 मार्च 2022, को इसकी रिकॉर्ड डेट है. मतलब जिसके डीमैट अकाउंट में कल तक इसकी होल्डिंग होगी, वह बोनस शेयर पाने का हकदार होगा.

लाइवमिंट की एक रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी के शेयरहोल्डर्स को 1 फुली पेड इक्विटी शेयर होल्डिंग के साथ 2 रुपये मूल्य के 2 नए फुली पेड इक्विटी शेयर मिलेंगे. कंपनी द्वारा एक्सचेंज फाइलिंग में ये जानकारी दी गई है. स्टॉक एक्सचेंज BSE के बोर्ड ने 8 फरवरी 2022 को हुई बैठक में बोनस शेयर इश्यू करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी.

ये भी पढ़ें – दुकानदारों के लिए बड़ी खबर: GST से हट जाएंगे 12 और 18 फीसदी वाले स्लैब

क्या है बोनस शेयर और क्यों किया जाता है?
बोनस शेयर्स का अभिप्राय है कि कंपनी अपने शेयर्स को ज्यादा हिस्सों में बांटती है. शेयर बाजार में लिस्टेड कंपनियां आमतौर पर ऐसा करती हैं, ताकि स्टॉक में ज्यादा लिक्विडिटी आए और उसका मूल्य कम हो जाए. प्राइस कम होने से ज्यादा लोग उसे खरीद सकने में सक्षम हो जाते हैं. मतलब 2,500 रुपये के मूल्य वाला शेयर शायद हर निवेशक न खरीदे, लेकिन इसी को स्प्लिट करके 500 रुपये का कर दिया जाए तो इसमें ज्यादा निवेशक रुचि लेंगे. इस केस में जिसके पास कंपनी का 1 शेयर है, कन्वर्जन के बाद उसके पास 2 शेयर हो जाएंगे. इसी अनुपात में शेयर की कीमत भी कम हो जाएगी.

ये भी पढ़ें – डीजल 25 रुपये प्रति लीटर हुआ महंगा, जानिए लेटेस्ट रेट

BSE के बारे में जरूरी जानकारी
1875 में स्थापित BSE (बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज) एशिया का पहला स्टॉक एक्सचेंज है, जो भारत के मुख्य एक्सचेंज ग्रुप्स में से एक है. यह एक्सचेंज 1875 में ‘द नेटिव शेयर एंड स्टॉक ब्रोकर्स एसोसिएशन’ (The Native Share & Stock Brokers Association) के रूप में स्थापित किया गया था. 2017 में, बीएसई भारत का पहला सूचीबद्ध स्टॉक एक्सचेंज बन गया, मतलब एक्सचेंज ने खुद के शेयर जारी किए, ताकि लोग उसमें भागीदार बन सकें. बीएसई का लोकप्रिय इक्विटी इंडेक्स – एस एंड पी बीएसई सेंसेक्स – भारत का सबसे व्यापक रूप से ट्रैक किया जाने वाला स्टॉक मार्केट बेंचमार्क इंडेक्स है. आने वाले दिनों में नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) भी IPO के जरिए लिस्ट होने वाला है.

मल्टीबैगर है BSE का शेयर
BSE के शेयर अब तक एक तगड़ा मल्टीबैगर साबित हुआ है. 1 साल की अवधि में यह शेयर 400 प्रतिशत से ज्यादा रिटर्न दे चुका है. पिछले 6 महीने की बात करें तो इसमें 134 प्रतिशत की बढ़ोतरी देखने को मिली है. वहीं 2022 में अब तक यह शेयर 151 फीसदी भागा है.

Tags: Multibagger stock, Stock market

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर