‘BSNL को VRS से चालू वित्त वर्ष में होगी 1,300 करोड़ रुपये की बचत’

BSNL

स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (VRS) 31 जनवरी 2020 से प्रभाव में आएगी. 78,569 कर्मचारियों ने VRS का विकल्प चुना है. इससे कंपनी को चालू वित्त वर्ष की शेष अवधि में वेतन बिल में 1,300 करोड़ रुपये की बचत की उम्मीद है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. सार्वजनिक क्षेत्र की भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) ने मंगलवार को कहा कि 78,569 कर्मचारियों ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (VRS) का विकल्प चुना है. इससे कंपनी को चालू वित्त वर्ष की शेष अवधि में वेतन बिल में 1,300 करोड़ रुपये की बचत की उम्मीद है. योजना जनवरी से अमल में आएगी.

    बीएसएनएल के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक पीके पुरवार ने कहा, स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (VRS) 31 जनवरी 2020 से प्रभाव में आएगी. हमारा लक्ष्य है कि जिन लोगों ने VRS के लिये आवेदन किया है, उन पर विचार किया जाए और उसे मंजूरी दी जाए.

    ये भी पढ़ें: देश की किस कंपनी में हैं कितनी नौकरियां! सरकार देगी आपको इसकी जानकारी

    MTNL के साथ विलय के बारे में पुरवार ने कहा कि चर्चा शुरू हुई है और दोनों कंपनियों के निदेशक मंडल की बैठक हुई है. उन्होंने कहा, इस समय हमारा लक्ष्य नेटवर्क एकीकरण और परिचालन में तालमेल पर है. इसको लेकर चर्चा शुरू हुई है. चूंकि वीआरएस 31 जनवरी 2020 से प्रभाव में आएगी, कंपनी को वेतन बिल में चालू वित्त वर्ष की शेष अवधि में 1,300 करोड़ रुपये की बचत होगी.

    उच्चतम न्यायालय के समायोजित सकल राजस्व पर हाल के फैसले से कंपनी के ऊपर वैध बकाये के बारे में पुरवार ने कहा, वित्तीय दबाव परिदृश्य को देखते हुए हमने सरकार से बकाये की वसूली पर पुनर्विचार करने या कंपनी को जो राशि देनी है, उसके बराबर समान राशि के बराबर इक्विटी पूंजी डालने को कहा है.

    ये भी पढ़ें:
    EXCLUSIVE: प्रॉपर्टी खरीदने-बेचने के नए नियम ला रही है सरकार, इन लोगों पर होगा सीधा असर

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.