घर खरीदारों के लिए बड़ी खबर! लोन देने वाली कंपनियों को लेकर किया ये ऐलान

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को लोकसभा में मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहला बजट पेश किया. उन्होंने कहा, हाउंसिग सेक्टर को बढ़ावा देने के लिए अगले 5 साल के 1 लाख करोड़ रुपये का निवेश किया जाएगा.

News18Hindi
Updated: July 5, 2019, 1:05 PM IST
घर खरीदारों के लिए बड़ी खबर! लोन देने वाली कंपनियों को लेकर किया ये ऐलान
घर खरीदारों के लिए बड़ी खबर! लोन देने वाली कंपनियों को लेकर किया ये ऐलान
News18Hindi
Updated: July 5, 2019, 1:05 PM IST
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को लोकसभा में मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहला बजट पेश किया. उन्होंने कहा, हाउंसिग सेक्टर को बढ़ावा देने के लिए अगले 5 साल के 1 लाख करोड़ रुपये का निवेश किया जाएगा. साथ ही, इसके लिए एक कमिटी बनाई जाएगी. अगले 5 साल में 100 लाख करोड़ रुपये खर्च करने की योजना है. वहीं, लोन देने वाली कंपनियां आरबीआई के तहत लाया जाएगा. हाउसिंग फाइनेंस कंपनी अब आरबीआई के तहत होंगी. एनपीएस अब पीएफआरडीए से अलग होगी​

किराएदारों के लिए खुशखबरी-केंद्र सरकार किराए के मकान को बढ़ावा देने के लिए पर्याप्त कदम उठाएगी. इसके लिए सरकार मौजूदा किराया कानूनों में संशोधन करेगी. वर्तमान किराया कानून पुराना हैं. इनकी वजह से मकान मालिक और किराएदार के बीच अच्छे संबंध स्थापित नहीं हो पाते हैं. नए नियमों को राज्यों के साथ साझा किया जाएगा." आम चुनाव के मद्देनजर फरवरी में अंतरिम बजट पेश किया गया था. सरकार बनने के बाद वर्ष 2019-20 के लिए यह पूर्ण बजट पेश किया गया.

ये भी पढ़ें-निर्मला सीतारमण ने शायरी के साथ की बजट की शुरूआत, VIDEO

वित्त मंत्री ने बताया है कि प्रधानमंत्री आवास योजना के पहले चरण में लगभग 1.5 करोड़ घर बनाए गए. उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत दूसरे चरण में लगभग 1.95 करोड़ मकान उपलब्ध कराने का प्रस्ताव है. यह 2022 तक नरेंद्र मोदी सरकार की महत्वाकांक्षी हाउसिंग फॉर ऑल नीति को पूरा करने के प्रयासों का हिस्सा होगा.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 5, 2019, 12:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...