लाइव टीवी

Duty Free स्टोर से अब खरीद सकेंगे सिर्फ 1 बोतल शराब, सिगरेट खरीदने पर भी लगी रोक, जानें क्या है वजह

भाषा
Updated: January 20, 2020, 9:49 AM IST
Duty Free स्टोर से अब खरीद सकेंगे सिर्फ 1 बोतल शराब, सिगरेट खरीदने पर भी लगी रोक, जानें क्या है वजह
अब खरीद सकेंगे सिर्फ एक बोतल शराब

वाणिज्य मंत्रालय (Commerce Ministry) ने 1 फरवरी को पेश हो रहे आगामी आम बजट के मद्देनजर वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण को यह सुझाव दिया है. मंत्रालय ने ड्यूटी फ्री स्टोर से एक कार्टन सिगरेट खरीदने की सुविधा को भी बंद करने का सुझाव दिया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. हवाईअड्डों (Airports) पर स्थित शुल्क-मुक्त स्टोर (Duty Free Store) से आने वाले दिनों में अधिकतम एक बोतल शराब ही खरीदी जा सकेगी. सरकार गैर-आवश्यक वस्तुओं के आयात (Import) को कम करने के लिये यह सीमा लगाने पर विचार कर रही है. सूत्रों ने इसकी जानकारी दी है. सूत्रों के अनुसार वाणिज्य मंत्रालय ने 1 फरवरी को पेश हो रहे आगामी आम बजट के मद्देनजर वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण को यह सुझाव दिया है. मंत्रालय ने ड्यूटी फ्री स्टोर से एक कार्टन सिगरेट खरीदने की सुविधा को भी बंद करने का सुझाव दिया है. अब तक जो व्यवस्था है उसके तहत विदेशों से आने वाले यात्री हवाईअड्डों पर स्थित इस तरह के ड्यूटी फ्री स्टोर से दो लीटर शराब और एक कार्टन सिगरेट खरीद सकते हैं.

एक लीटर शराब खरीदने की मंजूरी
सूत्रों ने कहा कि कई देश अभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को अधिकतम एक लीटर शराब खरीदने की मंजूरी देते हैं और भारत भी इसे अपना सकता है. यह सुझाव ऐसे में अहम हो जाता है कि सरकार देश में गैर-जरूरी वस्तुओं के आयात को कम करने के विभिन्न उपायों पर गौर कर रही है. सरकार का मानना है कि इन गैर-जरूरी वस्तुओं के आयात से देश का व्यापार घाटा बढ़ता है.

ये भी पढ़ें: कम पैसा लगाकर शुरू कर सकते हैं ये बिजनेस, हर महीने हो सकती है मोटी कमाई

50,000 रुपये का सामान खरीद पर नहीं देनी होती इंपोर्ट ड्यूटी
ड्यूटी फ्री दुकान से देश में आने वाला विदेशी यात्री आमतौर पर करीब 50,000 रुपये का सामान खरीद सकता है और इस पर उसे आयात शुल्क नहीं देना होता है.

इन सामानों पर बढ़ सकती कस्टम ड्यूटीसूत्रों ने कहा कि वाणिज्य मंत्रालय ने मेक इन इंडिया को बढ़ावा देने तथा विनिर्माण की वृद्धि को गति देने के लिये आगामी बजट में कागज, जूते-चप्पल, रबड़ के सामान और खिलौने आदि पर सीमा शुल्क बढ़ाने का भी सुझाव दिया है.

मंत्रालय ने फर्निचर, रसायन, रबड़, कोटेड कागज और पेपर बोर्ड समेत विभिन्न क्षेत्रों के 300 से अधिक सामानों पर सीमा शुल्क/आयात शुल्क की दर को तार्किक बनाने का प्रस्ताव दिया है.

ये भी पढ़ें: 19 लाख किसानों ने उठाया 3000 रुपये/-महीने की स्कीम का फायदा, ऐसे करें अप्लाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 20, 2020, 7:31 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर