लाइव टीवी

बजट 2020: ऑनलाइन शॉपिंग करना हुआ महंगा, अब देना होगा ये टैक्स

News18Hindi
Updated: February 1, 2020, 6:08 PM IST
बजट 2020: ऑनलाइन शॉपिंग करना हुआ महंगा, अब देना होगा ये टैक्स
महंगा हुआ ऑनलाइन शॉपिंग

बजट डॉक्युमेंट्स के मुताबिक, ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म्स (E-Commerce Platform) पर ट्रांजैक्शन ​के लिए सेलर्स को 1 फीसदी TDS देना होगा. संभव है कि यह सर्विसेज पर भी लागू किया जाए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 1, 2020, 6:08 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बजट 2020 में केंद्र सरकार ने ई-कॉमर्स ट्रांजैक्शन पर 1 फीसदी टैक्स डिडक्टेट एट सोर्स (TDS) को लागू कर दिया है. ऐसे में अब इस फैसले के बाद ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर सेलर्स पर टैक्स का बोझ बढ़ गया है. सरकार के बजट ​डॉक्युमेंट के मुताबिक, टैक्स दायरे को बढाने के लिए इसमें ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म (E-Commerce Platform) पर अपनी वस्तुएं बेचने वाले सेलर्स को भी शामिल किया गया है. इसके लिए इस एक्ट में नया सेक्शन 194-o को जोड़ने का प्रस्ताव लाया जाएगा ताकि सेलर्स पर 1 फीसदी का टीडीएस लागू किया जा सके.

साथ ही, सेक्शन 197 में भी संशोधन का प्रस्ताव लाया गया है. यह संशोधन 1 अप्रैल से लागू कर दिया जाएगा. इस डॉक्युमेंट में विस्तार से बताया गया कि ई-कॉमर्स ईकाई सेलर्स के ग्रॉस सेल पर 1 फीसदी का टैक्स काटेगी. संभव है कि यह टैक्स सेल्स के अतिरिक्त सर्विस पर भी लागू किया जाए.



यह भी पढ़ें: नए इनकम टैक्‍स नियम को लेकर है उलझन तो यहां समझें दोनों विकल्‍प

सरकार के इस प्रस्ताव पर फिलहाल किसी भी ई-कॉमर्स कंपनी का बयान नहीं आया है. हालांकि, यह भी साफ कर दिया गया है कि अगर किसी सेलर्स ने पिछले वर्ष में ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर कोई सेल किया है तो और उसकी कमाई 5 लाख रुपये से कम है तो उन्हें पिछले साल के लिए कोई टीडीएस नहीं देना होगा.

यह भी पढ़ें: Budget 2020: किसानों के लिए सरकार शुरू करेगी किसान रेल और उड़ान सेवा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 1, 2020, 6:08 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर