लाइव टीवी

Budget 2020: वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने रक्षा बजट में की मामूली बढ़ोतरी

News18Hindi
Updated: February 1, 2020, 7:33 PM IST
Budget 2020: वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने रक्षा बजट में की मामूली बढ़ोतरी
वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने रक्षा बजट में पिछले साल के मुकाबले मामूली बढ़ोतरी की है.

वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) ने बजट 2020 पेश करते हुए रक्षा बजट (Defence Budget) में 3.37 लाख करोड़ रुपये का प्रावधान किया है. पिछले साल सरकार ने रक्षा बजट को 3.18 लाख करोड़ रुपये दिए थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 1, 2020, 7:33 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitatraman) ने आज संसद में बजट 2020 (Budget 2020) पेश किया. पूर्व केंद्रीय रक्षा मंत्री (Former Defence Minister) निर्मला सीतारमण से देश को डिफेंस बजट (Defence Budget) में बड़े प्रावधान की उम्‍मीद थी. साथ ही उम्‍मीद की जा रही थी कि वह रक्षा बजट को पूरे जोश के साथ पढ़ेंगी. हालांकि, एक तरफ संसद में अचानक तबीयत बिगड़ने के कारण वह रक्षा बजट पढ़ नहीं पाईं. दूसरी तरफ रक्षा बजट देखकर निराशा ही मिली.

रक्षा उपकरणों की खरीद के लिए रखे 1.18 लाख करोड़ रुपये
सरकार ने इस बार के बजट में पिछले साल के मुकाबले 5.58 फीसदी की मामूली बढ़ोतरी की है. पिछले साल रक्षा बजट को 3.18 लाख करोड़ दिए गए थे. इस बार 3.37 लाख करोड़ रुपये मुहैया कराए गए हैं. कुल रक्षा आवंटन में 1.18 लाख करोड़ रुपये पूंजीगत व्यय (Capital Outlay) के लिए दिए गए हैं. इसका इस्तेमाल नए हथियार, लड़ाकू विमान, युद्धपोत और सैन्य उपकरणों को खरीदने के लिए किया जाएगा. राजस्व व्यय के मद में 2.19 लाख करोड़ रुपये रखे गए हैं, जिसमें वेतन पर व्यय और रक्षा प्रतिष्ठानों का रखरखाव शामिल है.

कुल रक्षा बजट में से 1.13 लाख करोड़ रुपये नए हथियार, लड़ाकू विमान, युद्धपोत और सैन्य उपकरणों को खरीदने के लिए दिए गए हैं.


पेंशन के लिए 1.33 लाख करोड़ रक्षा बजट से अलग रखे गए
रक्षा बजट में किए गए कुल आवटंन में पेंशन (Pension) भुगतान के लिए अलग रखे गए 1.33 लाख करोड़ रुपये शामिल नहीं हैं. विशेषज्ञों के मुताबिक, रक्षा आवंटन जीडीपी का 1.5 प्रतिशत बना हुआ है. यह 1962 के बाद से सबसे कम है. हालांकि, पिछले कुछ सालों में सरकार ने डिफेंस बजट में इजाफा किया है. सरकार अपनी सुरक्षा नीतियों को लेकर सतर्क है. चीन (China) का डिफेंस बजट भारत से 3 गुना अधिक है. भारत अपनी GDP का 2 फीसदी डिफेंस बजट पर खर्च करता है. वहीं, अमेरिका (US) अपनी GDP का 4 फीसदी, चीन 2.5 फीसदी और पाकिस्तान 3.5 फीसदी करता है.

ये भी पढ़ें:नए इनकम टैक्‍स नियम को लेकर है उलझन तो यहां समझें दोनों विकल्‍प

Budget 2020: नौकरी करने वालों के लिए बड़ा झटका, अब PF कटाने से भी नहीं बचेगा Income Tax

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 1, 2020, 7:10 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर