लाइव टीवी

नौकरी करने वालों के लिए बड़ी खबर! बजट में सरकार कर सकती है नई टैक्स छूट का ऐलान

News18Hindi
Updated: January 14, 2020, 3:22 PM IST
नौकरी करने वालों के लिए बड़ी खबर! बजट में सरकार कर सकती है नई टैक्स छूट का ऐलान
बजट में सरकार कर सकती हैं नई टैक्स छूट का ऐलान

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80सी में बड़ा बदलाव कर सकती हैं. बजट में नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (एनएससी) के तहत 50,000 रुपये तक के निवेश पर छूट मिल सकती है. इसके अलावा पीपीएफ में निवेश की अधिकतम सीमा को बढ़ाकर 2.5 लाख रुपये किया जा सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 14, 2020, 3:22 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. 1 फरवरी 2020 को पेश होने वाले आम बजट (Budget 2020) में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) नौकरीपेशा करदाताओं को बड़ी राहत देते हुए इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80सी (Income Tax act 80C) में बदलाव कर सकती हैं. अंग्रेजी के बिजनेस अखबार इकनोमिक टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक, 80सी के तहत छूट का दायरा बढ़ाकर उसे 2.5 लाख रुपये तक किया जा सकता है. आपको बता दें कि मौजूदा समय में यह छूट 1.5 लाख रुपये है. साथ ही, हर महीने कटने वाला ईपीएफ भी इसमें शामिल है.

एक्सपर्ट्स का कहना है कि पीपीएफ की लिमिट को 1.5 लाख से बढ़ाकर 2.5 लाख रुपये करने से सेविंग्स में बहुत बढ़ोतरी होगी. टैक्स रिलीफ देने के दूसरे उपायों के मुकाबले पर्सनल सेविंग्स पर इसका कहीं ज्यादा असर होगा. देश के 3 करोड़ से ज्यादा टैक्सपेयर्स की ग्रॉस टोटल इनकम 5 लाख रुपये या इससे ज्यादा है.

टैक्स दायरा बढ़ाने पर हो सकता हैं फैसला-
वित्त मंत्रालय के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, 80सी सेक्शन के तहत एक अलग एग्जेम्पशन की व्यवस्था हो सकती है. इसके लिए नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (एनएससी) के तहत 50,000 रुपये तक के निवेश पर छूट मिल सकती है. इसके अलावा पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (पीपीएफ) में निवेश की अधिकतम सीमा को बढ़ाकर 2.5 लाख रुपये किया जा सकता है.



सेक्शन 80सी के अभी 1.5 लाख रुपये की छूट मिलती है. इसमें पीपीएफ और एनएससी में किए गए निवेश भी शामिल होते हैं.

स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स, खासतौर से पीपीएफ और एनएससी पर टैक्स इन्सेंटिव्स देने के प्रस्ताव पर फाइनेंस मिनिस्ट्री विचार कर रही है. अगर इस पर आगे काम होगा तो इसे बजट में शामिल किया जा सकता है.फाइनेंशियल ईयर 2018 में इंडियन हाउसहोल्ड सेक्टर का सेविंग रेट घटकर जीडीपी के 17.2 फीसदी पर आ गया जो फाइनेंशियल इयर 2012 में 23.6 फीसदी पर था.

ये भी पढ़ें :-

मोदी सरकार का नया प्लान! बीमारियों के इलाज के लिए 15 लाख रुपए तक की करेगी मदद

ये भी पढ़ें-रोजाना 28 रु खर्च कर मिलेंगे 6 फायदे, बड़े काम की है LIC की ये बचत बीमा योजना

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 14, 2020, 2:50 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर