लाइव टीवी

J&K, लद्दाख को 10 हजार करोड़ का राहत पैकेज दे सकती है सरकार, बजट में हो सकता है ऐलान

News18Hindi
Updated: January 20, 2020, 3:49 PM IST

CNBC-आवाज़ को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक इस राहत पैकेज में नए इंडस्ट्री लगाने पर रियायतें दी जाएंगी, इंडस्ट्री के लिए बुनियादी सुविधाएं बनाई जाएंगी, सड़क-हाईवे जैसे प्रोजेक्ट को बढ़ावा दिया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 20, 2020, 3:49 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. सरकार 1 फरवरी को पेश होने वाले बजट (Budget 2020) में जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लिए खास राहत पैकेज की घोषणा कर सकती है. CNBC-आवाज़ को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक इस राहत पैकेज (Relief Package) में नए इंडस्ट्री लगाने पर रियायतें दी जाएंगी, इंडस्ट्री के लिए बुनियादी सुविधाएं बनाई जाएंगी, सड़क-हाईवे जैसे प्रोजेक्ट को बढ़ावा दिया जाएगा.

सूत्रों के मुताबिक, मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर को भी बढ़ा दिया जाएगा. एक्सपोर्ट सेक्टर पर खास जोर रहने वाला है और स्थानी स्तर पर उद्योग को बढ़ावा देने वाले प्लांट को सरकार विशेष रियायत देगी. ये राहत ड्यूटी और टैक्स के रूप में मिल सकती है.

ये भी पढ़ें: हलवा सेरेमनी के साथ शुरू हुई बजट दस्तावेजों की छपाई, बंद हुए 100 अधिकारी

सूत्रों के मुताबिक बजट में J&K, लद्दाख के लिए 10,000 करोड़ रुपये के राहत पैकेज देने पर विचार कर रही है. इस राहत पैकेज में जो प्रावधान होंगे वे अगले 15 से 20 साल के लिए लागू रहेंगे ताकि इंडस्ट्री वहां पर लॉन्ग टर्म के लिए निवेश कर सके.

15 से 20 साल के लिए राहत पैकेज को लागू करते समय कोशिश इस बात की होगी कि स्थानीय लोगों को रोजगार दी जाए और वहां पर औद्योगिक विकास ज्यादा तेज गति से हो. हाईवे, इंफ्रा के लिए विशेष फंड का भी ऐलान संभव है.

(लक्ष्मण रॉय, इकोनॉमिक पॉलिसी एडिटर- CNBC आवाज़)

 ये भी पढ़ें:
बड़ी खबर : 1 जून से शुरू होगी ‘एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड’ योजना, देश में कहीं भी खरीद सकेंगे राशन
UIDAI ने शुरू की नई सर्विस! Aadhaar Card खोने पर नहीं है कही जाने की जरूरत, 15 दिन में आएगा घर पर
कम पैसा लगाकर शुरू कर सकते हैं ये बिजनेस, हर महीने हो सकती है मोटी कमाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 20, 2020, 3:38 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर