लाइव टीवी

Budget 2020: MSMEs को टैक्स और ब्याज दरों में मिल सकती है ज्यादा रियायत

News18Hindi
Updated: January 7, 2020, 4:15 PM IST

सूत्रों के मुताबिक मैन्युफैक्चरिंग को बूस्ट देने के लिए वित्त मंत्री (Finance Minister) स्पेशल इंसेंटिव का ऐलान कर सकती हैं. सूत्रों के अनुसार MSMEs के लिए टैक्स दरों में विशेष छूट मिल सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 7, 2020, 4:15 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बजट (Budget) में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग (MSMEs) को टैक्स और ब्याज दरों में और रियायत मिल सकती है. सूत्रों के मुताबिक मैन्युफैक्चरिंग को बूस्ट देने के लिए वित्त मंत्री (Finance Minister) स्पेशल इंसेंटिव का ऐलान कर सकती हैं. सूत्रों के अनुसार MSMEs के लिए टैक्स दरों में विशेष छूट मिल सकती है. सरकार 2.5 प्रतिशत से 5 प्रतिशत स्पेशल टैक्स छूट पर विचार कर रही है.

बता दें कि 99 प्रतिशत MSMEs प्रोपराइटरशिप के तौर पर रजिस्टर्ड हैं. बताया जा रहा है कि कॉरपोरेट टैक्स कटौती से सेक्टर को फायदा नहीं हुआ है. 1 करोड़ रुपये के लोन पर ब्याज दर में 2 प्रतिशत की छूट जारी रहेगी. 2 साल के लिए MSMEs को ये विशेष छूट हासिल थी वहीं इंटरेस्ट सबवेंशन स्कीम को दो साल और बढ़ाने पर विचार किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें: आज ही निपटा लें अपने बैंक से जुड़े जरूरी काम! कल है बैंकों की बड़ी हड़ताल

रियल एस्टेट जैसे MSMEs के लिए फंड बनाने पर विचार हो रहा है. ये फोकस्ड फंड 25,000 करोड़ तक का हो सकता है. इससे MSMEs को कर्ज मिलने में काफी आसानी होगी.

(आलोक प्रियदर्शी, संवाददाता- CNBC आवाज़)

ये भी पढ़ें: सरकार ने बदले AC से जुड़े नियम, अब 24 डिग्री पर ही चलेगा एसी इतना ही रहेगा डिफॉल्ट तापमान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 7, 2020, 4:08 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर