अपना शहर चुनें

States

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण कल से शुरू करेंगी Pre-Budget चर्चा, सबसे पहले उद्यमियों से होगा सलाह-मशविरा

वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण कल यानी 14 दिसंबर 2020 से प्री-बजट चर्चा शुरू कर रही हैं.
वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण कल यानी 14 दिसंबर 2020 से प्री-बजट चर्चा शुरू कर रही हैं.

वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) 1 फरवरी 2021 को वित्‍त वर्ष 2021-22 का बजट (Budget 2021) पेश करेंगी. वित्‍त मंत्रालय बजट से पहले अलग-अलग सेक्‍टरों के दिग्‍गजों के साथ बैठक करता है. बैठक में शामिल होने वाले ये दिग्‍गज वित्‍त मंत्रालय (Ministry of Finance) को बजट के लिए सुझाव देते हैं. यही नहीं, केंद्र सरकार ने आम लोगों से भी बजट 2021 के लिए सुझाव मांगे थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 13, 2020, 5:11 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) आम बजट 2021-22 (Budget 2021) को लेकर कल यानी 14 दिसंबर 2020 से अलग-अलग सेक्‍टर के दिग्‍गजों के साथ बजट पूर्व चर्चा (Pre-Budget Discussions) शुरू करेंगी. वित्‍त मंत्रालय (Ministry of Finance) के मुताबिक, वित्‍त मंत्री सीतारमण कल सबसे पहले देश के शीर्ष उद्यमियों (Top Industrialists) के साथ बजट पूर्व चर्चा करेंगी. बता दें कि इस बार कोरोना संकट (Coronavirus Crisis) के कारण सभी बजट पूर्व बैठकें ऑनलाइन (Online Meetings) होंगी.

आम लोगों से भी वित्‍त मंत्रालय ने मांगे थे बजट पर सुझाव
वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण 1 फरवरी 2021 को वित्‍त वर्ष 2021-22 का बजट पेश करेंगी. वित्‍त मंत्रालय बजट से पहले अलग-अलग सेक्‍टरों के दिग्‍गजों के साथ बैठक करता है. बैठक में शामिल होने वाले ये दिग्‍गज वित्‍त मंत्रालय को बजट के लिए सुझाव देते हैं. यही नहीं, केंद्र सरकार ने आम लोगों से भी बजट 2021 के लिए सुझाव मांगे थे. इसके लिए 7 दिसंबर 2020 तक मौका था. बजट 2021-22 की चर्चाओं में लोगों की ज्‍यादा से ज्‍यादा भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए सरकार ने मायगॉव (MyGov) प्लेटफॉर्म पर सुविधा दी थी. पहले वित्त मंत्रालय ने तय किया था कि बजट 2021 के लिए उद्योग संगठनों और विशेषज्ञों से ई-मेल के जरिये सुझाव मंगाए जाएंगे.


ये भी पढ़ें- बजट 2021 में खर्च बढ़ाने का ऐलान करेगी सरकार! देश की अर्थव्‍यवस्‍था को संभालने पर रहेगा केंद्र का जोर



बजट 2021 में खर्च बढ़ाने पर रहेगा केंद्र सरकार का जोर
वित्‍त मंत्रालय बजट 2021 (Budget 2021) में खर्च बढ़ाने का ऐलान कर सकता है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) ने उम्मीद जताई है कि जल्द ही अर्थव्‍यवस्‍था में सुधार होगा. उन्‍होंने हाल में कहा था कि घाटे के बाद भी सरकारी खर्च (Public Expenditure) में किसी तरह की कटौती नहीं की जाएगी. साथ ही कहा था कि सरकारी कंपनियों (PSUs) से पूंजीगत खर्च (Capital Expenditure) बढ़ाने को कहा जाएगा. अगर सरकार ज्‍यादा से ज्‍यादा खर्च करती है तो जीडीपी में मजबूत बढ़ोतरी की जमीन तैयार हो जाएगी.

ये भी पढ़ें- सीनियर सिटिजंस को SBI का तोहफा, अब मार्च तक मिलेगा बचत पर सबसे ज्यादा कमाई का मौका!

आरबीआई गवर्नर ने कहा, आर्थिक वृद्धि पर रहेगा फोकस
रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के गवर्नर शक्तिकांत दास भी कह चुके हैं कि इस बार के बजट में आर्थिक वृद्धि की रफ्तार बढ़ाने पर पूरा जोर रहेगा. वित्त मंत्री सीतारमण का कहना है कि सरकार देश की अर्थव्‍यवस्‍था को सहारा देने के लिए खर्च में बढ़ोतरी कर सकती है, चाहे इससे बजट घाटे में बढ़ोतरी क्यों न हो जाए. उन्‍होंने ये स्‍पष्‍ट तौर पर कहा कि सरकार को आर्थिक वृद्धि की रफ्तार (Economic Growth) बढ़ाने के लिए आने वाले समय में खर्च में बढोतरी करनी होगी. साथ ही कहा कि अगर खर्च नहीं बढ़ाया गया तो कोरोना संकट (Coronavirus Crisis) के दौरान बरती गईं सावधानियों का कोई मतलब नहीं रह जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज