Home /News /business /

Budget 2022: कृषि क्षेत्र को मिलेगा प्रोत्साहन, एग्री लोन के लक्ष्य को बढ़ा सकती है सरकार

Budget 2022: कृषि क्षेत्र को मिलेगा प्रोत्साहन, एग्री लोन के लक्ष्य को बढ़ा सकती है सरकार

सरकार तीन लाख रुपये तक के लघु अवधि के फसल कर्ज पर 2 फीसदी की ब्याज सब्सिडी देती है.

सरकार तीन लाख रुपये तक के लघु अवधि के फसल कर्ज पर 2 फीसदी की ब्याज सब्सिडी देती है.

Union Budget 2022-23: आम बजट 1 फरवरी 2022 को सुबह करीब 11 बजे पेश किया जाएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार के अपने दूसरे कार्यकाल में यह चौथा बजट होगा.

    नई दिल्ली. आम बजट (Budget 2022) एक फरवरी को पेश किया जाएगा. सूत्रों के मुताबिक, कृषि क्षेत्र को प्रोत्साहन के लिए सरकार आगामी 2022-23 के बजट में एग्री लोन के लक्ष्य को बढ़ाकर 18 लाख करोड़ रुपये कर सकती है. चालू वित्त वर्ष के लिए एग्री लोन का लक्ष्य 16.5 लाख करोड़ रुपये है. सरकार हर साल एग्री लोन के लक्ष्य को बढ़ा रही है. सूत्रों ने बताया कि इस बार भी लक्ष्य को बढ़ाकर 18 से 18.5 लाख करोड़ रुपये किया जा सकता है.

    लगातार बढ़ रहा है एग्री लोन का लक्ष्य
    सूत्रों ने बताया कि इस महीने के आखिरी सप्ताह में बजट आंकड़ों को अंतिम रूप देते समय यह लक्ष्य तय किया जा सकता है. सरकार बैंकिंग क्षेत्र के लिए सालाना एग्री लोन का लक्ष्य तय करती है. इसमें फसल कर्ज का लक्ष्य भी शामिल होता है. हाल के बरसों में एग्री लोन का प्रवाह लगातार बढ़ा है और प्रत्येक वित्त वर्ष में एग्री लोन का आंकड़ा लक्ष्य से अधिक रहा है. उदाहरण के लिए 2017-18 के लिए एग्री लोन का लक्ष्य 10 लाख करोड़ रुपये था, लेकिन उस साल किसानों को 11.68 लाख रुपये का कर्ज दिया गया. इसी तरह वित्त वर्ष 2016-17 में नौ लाख करोड़ रुपये के एग्री लोन के लक्ष्य पर 10.66 लाख करोड़ रुपये का कर्ज दिया गया.

    ये भी पढ़ें- सोने के खरीदारों के लिए खुशखबरी, गोल्ड की कीमतें पिछले 6 साल के निचले स्तर पर

    लघु अवधि के एग्री लोन पर ब्याज सहायता देती है सरकार
    सूत्रों ने कहा कि कृषि क्षेत्र में ऊंचे उत्पादन के लिए कर्ज की महत्वपूर्ण भूमिका रहती है. संस्थागत कर्ज की वजह से किसान गैर-संस्थागत स्रोतों से ऊंचे ब्याज पर कर्ज लेने से भी बच पाते हैं. आमतौर पर खेती से जुड़े कार्यों के लिए कर्ज 9 फीसदी ब्याज पर दिया जाता है. लेकिन सरकार किसानों को सस्ता कर्ज उपलब्ध कराने के लिए लघु अवधि के एग्री लोन पर ब्याज सहायता देती है.

    ये भी पढ़ें- ITR Filing: क्या 31 दिसंबर की डेडलाइन आप भी मिस कर गए हैं? जानिए अब क्या-क्या हैं ऑप्शन?

    सरकार तीन लाख रुपये तक के लघु अवधि के फसल कर्ज पर 2 फीसदी की ब्याज सब्सिडी देती है. इससे किसानों को कर्ज 7 फीसदी के आकर्षक ब्याज पर उपलब्ध होता है. इसके अलावा कर्ज का समय पर भुगतान करने वाले किसानों को 3 फीसदी का प्रोत्साहन भी दिया जाता है. ऐसे में उनके लिए कर्ज पर ब्याज दर 4 फीसदी बैठती है.

    Tags: Agriculture, Agriculture Market, Budget

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर