Home /News /business /

Budget 2022 : मोदी सरकार PM KISAN की बढ़ा सकती है रकम, ग्रामीण अर्थव्यवस्था होगी मजबूत

Budget 2022 : मोदी सरकार PM KISAN की बढ़ा सकती है रकम, ग्रामीण अर्थव्यवस्था होगी मजबूत

रजिस्ट्रेशन में हो रहे फर्जीवाड़ा रोकने के लिए सरकार ने उठाया कदम

रजिस्ट्रेशन में हो रहे फर्जीवाड़ा रोकने के लिए सरकार ने उठाया कदम

Aam Budget 2022 : पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM KISAN Yojana) के तहत राशि बढ़ाने के कई लाभ दिखेंगे. इससे न सिर्फ किसानों की आय बढ़ाने में मदद मिलेगी बल्कि उन्हें लगातार बढ़ रही महंगाई के मोर्चे पर भी राहत मिलेगी.

नई दिल्ली. कोरोना महमारी के बीच बजट 2022 (Budget 2022) में सरकार का पूरा जोर अर्थव्यवस्था (Indian Economy) को मजबूती देने पर रहेगा. इसमें भी खासतौर पर ग्रामीण और कृषि अर्थव्यवस्था (Rural and Agri Economy) पर जोर रहेगा. इसके तहत सरकार बजट 2022 (Aam Budget 2022) में किसानों की बेहतरी के लिए कई घोषणाएं कर सकती है. इनमें पीएम किसान (PM Kisan) सम्मान निधि की रकम में बढ़ोतरी भी शामिल है.

कृषि क्षेत्र के जानकारों का कहना है कि पीएम किसान के तहत राशि बढ़ाकर 6,000 रुपये से ज्यादा करने से न सिर्फ किसानों को राहत मिलेगी बल्कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती मिलेगी। कृषि ही एक ऐसा क्षेत्र है, जिस पर महामारी का ज्यादा असर नहीं रहा. विशेषज्ञों का कहना है कि पीएम किसान के अलावा सरकार इस बजट में किसानों के लिए कई अन्य राहतों की घोषणा कर सकती है.

ये भी पढ़ें- Budget 2022: क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करने वालों को झटका देने की तैयारी, सरकार लगा सकती है टैक्स, जानें डिटेल

कमाई बढ़ने के साथ महंगाई के मोर्चे पर मिलेगी राहत
आईआईएफएल सिक्योरिटीज (IIFL Securities) के उपाध्यक्ष (रिसर्च) अनुज गुप्ता का कहना है कि महंगाई के इस दौर में सरकार अगर बजट 2022 में पीएम किसान सम्मान निधि के तहत राशि बढ़ाती है तो आगे इसके कई लाभ दिखेंगे. इससे न सिर्फ किसानों की आय (Farmers Income) बढ़ाने में मदद मिलेगी बल्कि उन्हें लगातार बढ़ रही महंगाई के मोर्चे पर भी राहत मिलेगी. उन्होंने कहा कि महंगाई (Inflation) बढ़ने से खेती के इस्तेमाल होने वाले खाद, बीज और डीजल की कीमतें लगातार बढ़ रही है. ऐसे में पीएम किसान में होने वाली बढ़ोतरी किसानों को राहत जरूर देगी.

ये भी पढ़ें- Personal Finance: पहली बार लेने जा रहे पर्सनल लोन तो इन बातों का रखें ख्याल, नहीं तो हो सकता है बड़ा नुकसान

पैदावार में होगा इजाफा, बढ़ेगी खपत
अनुज गुप्ता का कहना है कि किसानों को ज्यादा रकम मिलती है तो वे इसका इस्तेमाल अपनी पैदावार बढ़ाने में कर सकते हैं. सरकार ने हाल ही में खाद्य तेल (Edible Oil) से जुड़ी योजना शुरू की है. पीएम किसान की बढ़ी हुई रकम से किसान तिलहन फसलों की पैदावार बढ़ा सकते हैं. इससे खाद्य तेलों के आयात में कमी आएगी. खास बात है कि पैदावार बढ़ने से किसानों की कमाई बढ़ेगी, जिससे वे पहले के मुकाबले ज्यादा खर्च कर सकेंगे. इससे खपत (Consumption) में इजाफा होगा, जिससे कुल मिलाकर अर्थव्यवस्था को ही मजबूती मिलेगी.

ये भी पढ़ें- Car sales : विदेश में भी खूब बिक रहे भारत में बने वाहन, जानें किस कंपनी की कार की सबसे ज्यादा रही डिमांड

पहले भी हो चुकी है राशि बढ़ाने की मांग
पीएम किसान सम्मान निधि के तहत रकम बढ़ाने की मांग पहले भी कई बार हो चुकी है. उम्मीद है कि इस बजट में राशि बढ़ाने की घोषणा हो सकती है. अब तक किसानों के खाते में 6,000 रुपये सालाना भेजा जाता है, जो 3 किस्तों में दिया जाता है. बताया जा रहा है कि आने वाले वित्त वर्ष से यह राशि बढ़ाकर 8,000 रुपये की जा सकती है. इसका मतलब है कि तब किसानों को साल में 2,000 रुपये की चार किस्तें दी जा सकती हैं.

13 करोड़ किसान परिवारों को मिले 20,900 करोड़
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक जनवरी 2022 को किसानों के खाते में पीएम किसान की 10वीं किस्त जारी की थी. इससे 13 करोड़ किसान परिवारों के बैंक खाते में 20,900 करोड़ रुपये ट्रांसफर हुए थे. इस योजना के अंतर्गत अब तक 1.38 लाख करोड़ रुपये से ज्‍यादा की सम्मान राशि किसान परिवारों के बैंक खातों में ट्रांसफर की जा चुकी है.

Tags: Budget, FM Nirmala Sitharaman, PM Kisan

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर