Noida और Jewar के कारोबार को अब इस तरह मिलेगी रफ्तार, जानें क्या है प्लान

Noida और Jewar के कारोबार को मिलेगी रफ्तार

Noida और Jewar के कारोबार को मिलेगी रफ्तार

जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट को तैयार करने वाली कंपनी ने जेवर में एयरपोर्ट (Jewar Airport) टर्मिनल में बुलेट ट्रेन के स्टेशन की मांग की है. आपको बता दें नोएडा के सेक्टर-148 में पहले से ही बुलेट ट्रेन (Bullet Train) का एक स्टेशन प्रस्तावित है.

  • Share this:
नई दिल्ली: टॉय सिटी, फिल्म सिटी (Film City), मेडिकल डिवाइस पार्क, हेबिटेट सेंटर, डाटा सेंटर (Data Centar), आईटी पार्क समेत तमाम ऐसी योजनाएं हैं जिन्हें लेकर नोएडा (Noida) और यमुना एक्सप्रेस-वे के किनारे काम चल रहा है. र्स्टाटअप शुरु करने वालों को जमीन देने में वरीयता दी जा रही है, लेकिन अब जल्द ही इन सभी योजनाओं को और रफ्तार मिलने वाली है. जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट को तैयार करने वाली कंपनी ने जेवर में एयरपोर्ट (Jewar Airport) के टर्मिनल में बुलेट ट्रेन के स्टेशन की मांग की है.

जबकि नोएडा के सेक्टर-148 में पहले से ही बुलेट ट्रेन (Bullet Train) का एक स्टेशन प्रस्तावित है. जेवर में स्टेशन का प्रस्ताव बनाकर नेशनल हाईस्पीड रेल कॉरपोरेशन को भेज दिया गया है. अब फैसला एनएचएसआरसीएल को करना है.

यह भी पढ़ें: आम जनता पर महंगाई की मार! आज से महंगे हो गए ये सभी प्रोडक्ट्स, चुकाने होंगे इतने ज्यादा रुपये



नोएडा-जेवर में स्टेशन बनने से इन्हें भी मिलेगा फायदा
जेवर एयरपोर्ट के टर्मिनल के पास स्टेशन बनाने का प्रस्ताव है. इससे एयरपोर्ट के यात्रियों को फायदा मिलेगा. बुलेट ट्रेन से चार घंटे में दिल्ली से वाराणसी का सफर पूरा हो जाएगा. सराय काले खां से चलने के बाद सबसे पहले बुलेट ट्रेन नोएडा के सेक्टर-148 में रुकेगी. नोएडा में स्टेशन बनने से नोएडा-ग्रेटर नोएडा के अलावा गाजियाबाद और उसके आसपास के लोग बुलेट ट्रेन से सफर करने का फायदा उठा सकेंगे. जबकि जेवर एयरपोर्ट के पास बनने से जेवर के साथ ही अलीगढ़, बुलंदशहर और हापुड़ के लोग आसानी से पहुंच सकेंगे.

बुलेट ट्रेन के साथ मिलकर कारोबार को पंख लगाएंगे यह योजनाएं
इंडस्ट्रियल एक्सपर्ट केसी जैन बताते हैं कि कारोबार छोटा हो या बड़ा उसके लिए रेल, हवाई और सड़क ट्रांसपोर्ट सबसे अहम होता है. अब अगर नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना एक्सप्रेस इंडस्ट्रीय डवलपमेंट अथॉरिटी की योजनाओं को देखें तो जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट का काम जोर-शोर से चल रहा है. ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे को जेवर एयरपोर्ट से जोड़ने का काम चालू है.

यह भी पढ़ें: एक अप्रैल से नोएडा और ग्रेटर नोएडा में होगी वाहनों की चेकिंग, तैयार रखें पेपर, वरना कटेगा चालान

दिल्ली-मुंबई के फासले को चंद घंटों के सफर में बदलने वाले दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे को भी जेवर एयरपोर्ट से जोड़ा जा रहा है. ग्रेटर नोएडा से जेवर एयरपोर्ट तक मेट्रो लाइन शुरु हो रही है. इसके अलावा पीएम नरेन्द्र मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट दिल्ली से वाराणसी के बीच प्रस्तावित बुलेट ट्रेन का एक स्टेशन जेवर एयरपोर्ट के पास बनाने का भी प्रस्ताव है.

यह प्लान डीपीआर में शामिल है. आगरा-अलीगढ़ को जोड़ने वाला यमुना एक्सप्रेस-वे पहले से बना हुआ है. आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे भी चालू है. नोएडा में इंटरनेशनल लेवल का हैबिटेट सेंटर और हेलीपोर्ट बनाने का काम भी चालू हो चुका है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज