तिमाही रिजल्ट: ल्यूपिन का शुद्ध लाभ चौथी तिमाही में 18% बढ़ा, हैपिएस्ट माइंड का net profit 7 गुना बढ़ा

ल्यूपिन के चौथे तिमाही का रिजल्ट

ल्यूपिन के चौथे तिमाही का रिजल्ट

मुंबई. फार्मा मैन्युफैक्चरिंग कंपनी ल्यूपिन ने गुरुवार को अपने चौथी तिमाही का रिजल्ट जारी किया. 31 मार्च 2021 को समाप्त बीते वित्त वर्ष की अंतिम तिमाही के दौरान कंपनी का शुद्ध लाभ 18 प्रतिशत बढ़कर 460 करोड़ रुपये हो गया।

  • Share this:

मुंबई. फार्मा मैन्युफैक्चरिंग कंपनी ल्यूपिन ने गुरुवार को अपने चौथी तिमाही का रिजल्ट जारी किया. 31 मार्च 2021 को समाप्त बीते वित्त वर्ष की अंतिम तिमाही के दौरान कंपनी का शुद्ध लाभ 18 प्रतिशत बढ़कर 460 करोड़ रुपये हो गया। कंपनी ने अपने बयान में कहा है कि घरेलू और अंतरराष्ट्रीय बाजार में बिक्री बढ़ने से उसका मुनाफा बढ़ा।

मुंबई स्थित कंपनी ने साल 2019-20 की जनवरी-मार्च तिमाही में 390 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया था। कंपनी ने एक बयान में कहा कि हालांकि इस दौरान उसकी परिचालन से कुल आय घटकर 3,783 करोड़ रुपये रह गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 3,846 करोड़ रुपये थी।

वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान कंपनी का शुद्ध लाभ 1,216 करोड़ रुपये

वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान कंपनी ने 1,216 करोड़ रुपये का कुल शुद्ध लाभ दर्ज किया, जबकि इससे पिछले वित्त वर्ष के दौरान उसे 269 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था। इस दौरान परिचालन से कुल आय 15,163 करोड़ रुपये रही, जो 2019-20 में 15,375 करोड़ रुपये थी। विशेषज्ञों के मुताबिक कोरोना महामारी की वजह से कंपनी के रिजल्ट उम्मीद से बेहतर रहे हैं.
यह भी पढ़ें- कोरोना और घटती कमाई के बीच संकट में क्रेडिट कार्ड पर लोन लेने से क्यों बचना चाहिए, क्या है बेहतर विकल्प

हैप्पीएस्ट माइंड को चौथी तिमाही में 36 करोड़ का शुद्ध लाभ -

पिछले साल बीएसई और एनएसई में सूचीबद्ध होने वाली कंपनी आईटी कंपनी हैप्पीएस्ट माइंड टेक्नोलॉजीज लिमिटेड का मुनाफा चौथी तिमाही में 7 गुना से ज्यादा बढ़ा है. कंपनी ने बताया कि बताया कि मार्च 2021 तिमाही में उसका शुद्ध लाभ 36.05 करोड़ रुपये हो गया। एक साल पहले की समान अवधि में कंपनी ने 5.30 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हासिल किया था।



यह भी पढ़ें- शेयर बाजार के नए निवेशक कैसे बचें नुकसान से, इन दस बातों को जरूर सीखें

कंपनी ने शेयर बाजार को बताया कि समीक्षाधीन तिमाही में उसकी आय 220.71 करोड़ रुपये रही, जो एक साल पहले की समान अवधि के 186.35 करोड़ रुपये के मुकाबले 18.4 प्रतिशत अधिक है। हैप्पीएस्ट माइंड का भी बिजनेस कोरोना काल में तेजी से बढ़ा है. टेक सेक्टर की बढ़ी डिमांड का लाभ कंपनी को मिला है. हैप्पीएस्ट माइंड के आईपीओ को भी निवेशकों ने हाथों-हाथ लिया था. जानकारों के मुताबिक, कंपनी के रिजल्ट उम्मीदों के मुताबिक बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज