Home /News /business /

business idea business opportunity how to start paper cup making business rrmb

Business Idea: सिंगल यूज प्‍लास्टिक बैन होने से न हों परेशान, कागज से जुड़ा कारोबार कराएगा मोटी कमाई

अब कागज से बनी प्‍लेट और कप सहित अन्‍य चीजों की डिमांड बढ़ जाएगी.

अब कागज से बनी प्‍लेट और कप सहित अन्‍य चीजों की डिमांड बढ़ जाएगी.

पहले से ही पेपर से बने उत्‍पादों की मांग देश में अच्‍छी-खासी थी और अब सिंगल यूज प्‍लास्टिक से बने प्‍लेट और कप आदि पर बैन लगने से पेपर कप बनाने के बिजनेस (Paper cup making business) में बढ़ोतरी होगी. पेपर कप बनाने का बिजनेस कम निवेश में शुरू हो जाता है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली. देश में आज यानी 1 जुलाई से सिंगल-यूज प्लास्टिक पर बैन लग गया है. इसका असर यह होगा कि अब प्लास्टिक के प्‍लेट, स्ट्रॉ, कप और चम्मच सहित रोजमर्रा की जरूरत की कई प्‍लास्टिक से बनी वस्तुओं का प्रयोग देश में नहीं होगा. इनकी जगह अब कागज से बने प्रोडक्ट्स लेंगे. इसलिए अब कागज से बनी प्‍लेट और कप सहित अन्‍य चीजों की डिमांड बढ़ जाएगी. अगर आपका भी अभी कोई बिजनेस शुरू करने का विचार है तो आप पेपर के कप-प्‍लेट सहित अन्‍य चीजों को बनाने की यूनिट स्‍थापित करके अच्‍छी कमाई कर सकते हैं.

पेपर कप बनाने का बिजनेस शुरू करने के लिए आपको ज्‍यादा पूंजी भी खर्च नहीं करनी होगी. शुरुआत में आप इसे थोड़ा पैसा लगाकर ही शुरू कर सकते हैं. पहले से ही पेपर से बने उत्‍पादों की मांग देश में अच्‍छी-खासी थी और अब सिंगल यूज प्‍लास्टिक से बने प्‍लेट और कप आदि पर बैन लगने से इनकी मांग में भारी उछाल आएगा. इसलिए अब यह बिजनेस शुरू करने का अच्‍छा मौका है.

ये भी पढ़ें- Business Idea : बरसात में बोएं मुनाफे का बीज! सर्टिफाइड सीड प्रोडक्‍शन कराएगा पैसों की बारिश, कैसे और कब करें शुरुआत?

ऐसे शुरू करें यह बिजनेस
पेपर कप यूनिट लगाने के लिए आपको ज्‍यादा जगह की जरूरत नहीं होती है. इसका कारण यह है कि जो मशीन लगाई जाती हैं उनका साइज दो से पांच फुट ही होता है. थोड़ी जगह में माल का स्‍टोरेज भी ज्‍यादा होता है. इस बिज़नेस के लिए आपको 2 मशीनों की जरूरत पड़ती है. एक होती है ऑटोमैटिक पेपर प्‍लेट बनाने वाली मशीन और दूसरी कप और प्‍लेट के विभिन्‍न साइज और शेप बनाने के लिए. छोटी मशीन की  कीमत 80 हजार रुपये से शुरू होती है. एक दिन में ये 10 हजार से 40 हजार तक पेपर कप और प्‍लेट बना सकती हैं.

इस बिज़नेस में ज्यादा कर्मचारियों की आवशकता नहीं होती है. इसमें मशीनों को चलाने के लिए 2 कर्मचारियों की आवश्‍यकता होती है. इसमें एक अनुभवी व्‍यक्ति चाहिए होता है, जो मशीनों को चलाने में एक्‍सपर्ट हो और एक उसकी सहायता के लिए हेल्‍पर होना चाहिए.

कच्‍चा माल
पेपर कप बनाने के लिए कच्‍चा माल और मशीनें आसानी से मिल जाती हैं. बिज़नेस शुरू करने के लिए आपको कच्चे माल के तौर पर मशीनों के इलावा 5 चीजों की जरूरत पड़ती है. प्रिंटेड लैमिनेटेड पेपर ब्लाइंड्स, लैमिनेटेड पेपर ब्लाइंड्स, सन्माइका पेपर ब्लाइंड, बॉटम रील और पैकिंग सामग्री. यह सामग्री आसानी से किसी बड़े शहर में मिल जाती है. इसके अलावा आप ऑनलाइन भी इन्‍हें खरीद सकते हैं.

कितना होगा खर्च
पेपर कप बनाने की ऑटोमैटिक छोटी मशीनें 80 हज़ार से शुरू होती है. आप इनको अपने बिज़नेस के हिसाब से खरीद सकते है. इसके इलावा ज़मीन, कर्मचारियों, और सेटअप पर खर्चा आता है. एक अनुमान के अनुसार, एक अच्‍छा पेपर कप मैन्‍युफेक्‍चरिंग बिज़नेस सेटअप 5 लाख से शुरू कर सकते हैं और बाद में इसे धीरे-धीरे बढ़ा सकते हैं.

कितनी होगी कमाई
ऑटोमैटिक मशीन से हर दिन लगभग कागज के 40,000 कप-प्‍लेट बनाए जा सकते हैं. एक पेपर कप या प्‍लेट बनाने पर लागत 20 पैसे होती है. इस हिसाब से 8,000 रुपये खर्च होंगे. आमतौर पर इन्‍हें 10 पैसे मुनाफे पर बेचा जाता है. इस तरह ये 12,000 रुपये में बिकेंगी और आपको 4 हजार रुपये मुनाफा होगा. आपकी कमाई आपके प्रोडक्‍शन और सेल पर निर्भर करती है. जितनी ज्‍यादा बिक्री होगी उतनी ही ज्‍यादा कमाई होगी. महीने में आप आराम से इस बिजनेस से 60 हजार रुपये कमा सकते हैं.

ये भी पढ़ें-   Business Idea: पोहा बनाएं, लोगों को खिलाएं और पैसा कमाएं! शुरू करने के लिए सरकार से मिलेगा 90% तक लोन

सरकार करेगी मदद
पेपर कप मैन्‍युफैक्‍चरिंग यूनिट लगाने के लिए आप केंद्र सरकार की मुद्रा योजना का लाभ उठाकर लोन ले सकते हैं. इस योजना के तहत कुल प्रोजेक्ट कास्ट का 25 फीसदी आपको खुद के पास से निवेश करना होगा. मुद्रा योजना के तहत 75 फीसदी लोन सरकार मुहैया करवा देती है.

Tags: Business ideas, Business opportunities, Earn money, Money Making Tips, New Business Idea

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर