ट्रैवल एजेंट या टूर ऑपरेटर बनकर कर सकते हैं अच्छी कमाई, सरकार कर रही है मदद

भारत में टूरिज्म एंड हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री तेजी से ग्रोथ कर रही है. इसलिए भारत में ट्रैवल बिजनेस का बहुत बड़ा स्‍कोप है. भारत में 12 महीने टूरिस्‍ट आते रहते हैं. यही वजह है कि भारत में लाखों लोग टूरिज्‍म सेक्‍टर से जुड़े हुए हैं.

News18Hindi
Updated: May 23, 2019, 7:38 AM IST
ट्रैवल एजेंट या टूर ऑपरेटर बनकर कर सकते हैं अच्छी कमाई, सरकार कर रही है मदद
भारत में टूरिज्म एंड हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री तेजी से ग्रोथ कर रही है. इसलिए भारत में ट्रैवल बिजनेस का बहुत बड़ा स्‍कोप है. भारत में 12 महीने टूरिस्‍ट आते रहते हैं. यही वजह है कि भारत में लाखों लोग टूरिज्‍म सेक्‍टर से जुड़े हुए हैं.
News18Hindi
Updated: May 23, 2019, 7:38 AM IST
भारत में टूरिज्म एंड हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री तेजी से ग्रोथ कर रही है. इसलिए भारत में ट्रैवल बिजनेस का बहुत बड़ा स्‍कोप है. भारत में 12 महीने टूरिस्‍ट आते रहते हैं. यही वजह है कि भारत में लाखों लोग टूरिज्‍म सेक्‍टर से जुड़े हुए हैं. ऐसे में आप भी टूरिज्‍म सेक्‍‍टर से जुड़कर बिजनेस कर सकते है. टूरिज्‍म सेक्‍टर में कम इन्‍वेस्‍टमेंट में बिजनेस करना हो तो आप ट्रैवल एजेंट या टूर ऑपरेटर बन सकते हैं. लेकिन इसके लिए सरकार से रजिस्‍ट्रेशन कराना होता है. केंद्र सरकार ने इस सेक्‍टर में बिजनेस की संभावना को देखते हुए रजिस्‍ट्रेशन प्रक्रिया को आसान कर दिया है. आइए जानते हैं रजिस्ट्रेशन कराने का पूरा प्रोसेस...(ये भी पढ़ें: 4 लाख रुपये लगाकर शुरू करें यह बि‍जनेस, सालाना 6 लाख से ज्यादा कमाएं)

कैसे कराएं रजिस्‍ट्रेशन


टूरिज्म बिजनेस के लिए आपको मिनिस्‍ट्री ऑफ टूरिज्‍म से रजिस्‍ट्रेशन कराना होगा. आप ऑनलाइन अप्‍लाई कर सकते हैं. इसके लिए आपको इस लिंक http://etraveltradeapproval.nic.in/User/Default.aspx पर जाना होगा. यहां आपको सबसे पहले लॉग इन आईडी बनाना होगा, जिसके बाद आपसे मांगी गई सूचनाएं भरनी होंगी.



क्‍या होता है ट्रैवल एजेंसी का काम
अगर आप ट्रैवल एजेंसी शुरू करना चाहते हैं तो सबसे पहले यह समझना होगा कि ट्रेवल एजेंट के तौर पर आप क्‍या-क्‍या कर सकते हैं. ट्रैवल एजेंसी का रजिस्‍ट्रेशन मिलने के बाद आप एयर, रेल, शिप, बस टिकट, पासपोर्ट या वीजा का अरेंजमेंट कर सकते हैं. इसके अलावा आप एकोमोडेशन, एंटरटेनमेंट के अलावा और टूरिज्‍म से संबंधित सर्विस प्रोवाइड करा सकते हैं.

क्‍या है इनबाउंड टूर ऑपरेटर का काम
Loading...

अगर आप इनबाउंड टूर ऑपरेटर का बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको यह समझना होगा कि इनबाउंड टूर ऑपरेटर क्‍या करता है. इनबाउंड टूर ऑपरेटर का काम विदेशी पर्यटकों को ट्रांसपोर्ट के अलावा एकोमोडेशन, साइट दिखाना, एंटरटेनमेंट सहित टूरिज्‍म संबंधित सर्विस प्रोवाइड करानी होगी. इसके लिए जरूरी है कि आप जिस देश के टूरिस्‍ट पर फोकस कर रहे हैं, उस देश की भाषा का ज्ञान होना चाहिए. ये भी पढ़ें: सिर्फ 50 हजार में शुरू करें ये बिजनेस, सरकार करेगी बाकी का पैसा जुटाने में मदद



बन सकते हैं टूरिस्‍ट ट्रांसपोर्ट ऑपरेटर
अगर आप टूरिस्‍ट ट्रांसपोर्ट ऑपरेटर बनना चाहते हैं तो आपको टूरिस्‍ट के लिए ट्रांसपोर्ट का अरेंजमेंट करना होगा, जैसे कार, कोच, बोट, बस आदि का अरेंजमेंट करना होगा.

बनें एडवेंचर टूर ऑपरेटर
पिछले कुछ सालों में एडवेंचर टूर के प्रति लोगों का रुझान बढ़ा है. आप यह बिजनेस शुरू कर सकते हैं. हालांकि आपको एडवेंचर टूरिज्‍म की जानकारी होनी चाहिए. भारत में वाटर स्‍पोर्ट्स, एयरो स्‍पोर्ट्स, ट्रेकिंग, सफारी, पहाड़ों पर चढ़ने जैसे एडवेंचर टूरिज्‍म की बहुत संभावना है. आप यहां के लिए ट्रांसपोर्ट, एकोमोडेशन आदि का अरेंजमेंट कर सकते हैं. इसके अलावा आप डोमेस्टिक टूर ऑपरेटर का भी काम शुरू कर सकते हैं.

ये भी पढ़े: पेट्रोल पंप की जगह अब करें ई-चार्जिंग स्‍टेशन के जरिए कमाई!

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...