• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • कारोबारियों को राहत! 5 करोड़ से अधिक बिजनेस करने वाले GST रिटर्न कर सकेंगे सेल्फ-सर्टिफाई, CA की जरूरत नहीं

कारोबारियों को राहत! 5 करोड़ से अधिक बिजनेस करने वाले GST रिटर्न कर सकेंगे सेल्फ-सर्टिफाई, CA की जरूरत नहीं

सीबीआईसी ने एक नोटिफिकेशन के जरिए जीएसटी नियमों में संशोधन किया है.

सीबीआईसी ने एक नोटिफिकेशन के जरिए जीएसटी नियमों में संशोधन किया है.

अब 5 करोड़ रुपये से ज्यादा के कारोबार वाले जीएसटी टैक्सपेयर्स अपने एनुअल रिटर्न को सेल्फ-सर्टिफाई कर सकेंगे

  • Share this:

    नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने कारोबारियों को बड़ी राहत दी है. अब 5 करोड़ रुपये से ज्यादा के कारोबार वाले जीएसटी टैक्सपेयर्स अपने एनुअल रिटर्न को खुद प्रमाणित (Self Certify) कर सकेंगे और उन्हें इसका चार्टर्ड अकाउंटेंट (Chartered Accountants) से अनिवार्य ऑडिट सर्टिफिकेशन कराने की जरूरत नहीं होगी. सेंट्रल बोर्ड ऑफ इनडायरेक्ट टैक्सेस एंड कस्टम्स यानी सीबीआईसी (CBIC) ने इस बारे में निर्देश जारी किया है.

    जीएसटी के तहत 2020-21 के लिए दो करोड़ रुपये तक के सालाना कारोबार वालों को छोड़कर अन्य सभी इकाइयों के लिए एनुअल रिटर्न -जीएसटीआर-9/9ए– दायर करना अनिवार्य है. इसके अलावा पांच करोड़ रुपये से अधिक के कारोबार वाले टैक्सपेयर्स को फॉर्म जीएसटीआर-9सी के रूप में समाधान विवरण जमा कराने की जरूरत होती थी. इस विवरण को ऑडिट के बाद चार्टर्ड अकाउंटेंट द्वारा सत्यापित किया जाता है.

    नोटिफिकेशन के जरिए जीएसटी नियमों में संशोधन
    सीबीआईसी ने एक नोटिफिकेशन के जरिए जीएसटी नियमों में संशोधन किया है. इसके तहत 5 करोड़ रुपये से अधिक के कारोबार वाले टैक्सपेयर्स को एनुअल रिटर्न के साथ सेल्फ-सर्टिफाई समाधान विवरण देना होगा. इसके लिए सीए के सर्टिफिकेशन की जरूरत नहीं होगी.

    ये भी पढ़ें- पीएम मोदी 2 अगस्त को लॉन्च करेंगे डिजिटल पेमेंट सॉल्युशन e-RUPI, जानिए कैसे काम करता है ई-रुपी

    टैक्सपेयर्स को राहत
    एएमआरजी एंड एसोसिएट्स के वरिष्ठ भागीदार रजत मोहन ने कहा कि सरकार ने पेशेवर पात्र चार्टर्ड अकाउंटेंट से जीएसटी ऑडिट की जरूरत को समाप्त कर दिया है. अब टैक्सपेयर्स को एनुअल रिटर्न और समाधान विवरण खुद सत्यापित कर जमा कराना होगा. उन्होंने कहा कि इससे हजारों टैक्सपेयर्स को अनुपालन के मोर्चे पर राहत मिलेगी लेकिन जानबूझकर या अनजाने में एनुअल रिटर्न में गलत विवरण का जोखिम बढ़ेगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज