विप्रो-इंफोसिस को महंगा पड़ेगा शेयर बायबैक, चुकाना होगा 20% टैक्स

बजट 2019-20 के एक प्रस्ताव ने बायबैक की प्लानिंग में लगी लिस्टेड कंपनियों को तगड़ा झटका दिया है.

News18Hindi
Updated: July 8, 2019, 12:10 PM IST
विप्रो-इंफोसिस को महंगा पड़ेगा शेयर बायबैक, चुकाना होगा 20% टैक्स
सरकार का एक फैसला, विप्रो-इंफोसिस को पड़ेगा महंगा
News18Hindi
Updated: July 8, 2019, 12:10 PM IST
बजट 2019-20 के एक प्रस्ताव ने बायबैक की प्लानिंग में लगी लिस्टेड कंपनियों को तगड़ा झटका दिया है. दरअसल वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने बजट भाषण में लिस्टेड कंपनियों के शेयर बायबैक पर 20 फीसदी टैक्स का प्रस्ताव रखा है. सरकार के इस फैसले से दिग्गज आईटी कंपनी इंफोसिस और विप्रो को शेयर बायबैक करना महंगा पड़ सकता है. बता दें कि देश की दूसरी बड़ी आईटी कंपनी इंफोसिस 8600 करोड़ रुपये का शेयर बायबैक कर रही है. वहीं दिग्गज आईटी सर्विसेज कंपनी विप्रो भी 10,500 करोड़ रुपये के बायबैक ऑफर का ऐलान किया है.

विप्रो करेगी 10500 करोड़ का शेयर बायबैक
विप्रो की तरफ से रेग्युलेटरी फाइलिंग के मुताबिक, विप्रो के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने 16 अप्रैल को हुई मीटिंग में कंपनी के 32,30,76,923 शेयर बायबैक करने के प्रपोजल को मंजूरी दी. ये शेयर कंपनी में 6.35% हिस्सेदारी के बराबर होंगे और उनकी खरीदारी पर 325 रुपये प्रति शेयर के हिसाब से 10,500 करोड़ रुपये तक की रकम खर्च की जाएगी. कंपनी ने कहा कि बायबैक ऑफर नियमानुसार टेंडर रूट के जरिए कंपनी के मौजूदा शेयरहोल्डर्स को दिया जाएगा.

अभी तक निवेशकों को चुकाना पड़ता था टैक्स

अभी तक लिस्टेड कंपनियों पर बायबैक के दौरान किसी तरह की देनदानी नहीं बनती थी, हालांकि निवेशकों को शेयर बेचने से हुए फायदे पर 10 फीसदी टैक्स चुकाना होता था. बजट प्रस्ताव के मुताबिक, बायबैक में शेयर बेचने से हुए फायदे पर निवेशकों को कोई टैक्स नहीं चुकाना होगा. हालांकि इसमें एक पेंच यह है कि टैक्स की देनदारी शेयरों के इश्यू प्राइस और बायबैक प्राइस के अंतर पर बनेगी.

ये भी पढ़ें: मानसून ऑफर! दिल्ली में सस्ती जमीन और दुकान खरीदने का मौका

ऐसे पड़ेगा कंपनियों पर टैक्स का बोझ
Loading...

एक्सपर्ट के मुताबिक, अगर क निवेशक ओपन मार्केट से 100 रुपये का शेयर खरीदता है और कंपनी उसे 150 रुपये का बायबैक प्राइस ऑफर करती है तो फायदा 50 रुपये का हुआ. इस प्रकार 50 रुपये के फायदे पर 10 फीसदी टैक्स बनता है. हालांकि बजट प्रस्ताव के बाद निवेशक को टैक्स चुकाने से छूट मिलेगी, लेकिन कंपनी को बायबैक प्राइस और इश्यू प्राइस के बीच अंतर पर 20 फीसदी टैक्स चुकाना होगा.

इंफोसिस करेगी 8260 करोड़ का शेयर बायबैक
आईटी कंपनी इंफोसिस ने ओपन मार्केट के जरिए 8600 करोड़ रुपये के शेयर बायबैक करेगी. यह बायबैक अधिकतम 800 रुपये प्रति शेयर के भाव से होगा.

ये भी पढ़ें: अब आधार से फाइल करेंगे ITR, तो खुद बन जाएगा PAN कार्ड

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 8, 2019, 12:10 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...