कभी ट्यूशन पढ़ाकर शुरू किया था ये बिजनेस, लॉकडाउन में हो गया सुपरहिट

कभी ट्यूशन पढ़ाकर शुरू किया था ये बिजनेस, लॉकडाउन में हो गया सुपरहिट
संस्थापक बायजू रविंद्रन

सेंसर टावर ने अपनी एक रिपोर्ट में बताया है कि लॉकडाउन के दौरान सबसे ज्यादा डाउनलोड किए जाने वाले एजुकेशन ऐप में बाइजूस भी शामिल है. बाइजूस (Byju's Learning App) को इस लिस्ट में टॉप 10 में जगह मिली है.

  • Share this:
नई दिल्ली. लॉकडाउन के दौरान गूगल प्ले स्टोर से दुनियाभर में सबसे ज्यादा डाउनलोड किए जाने वाले एजुकेशन ऐप में बाइजूस (Byju's Learning App) को भी जगह मिला है. इस दौरान डाउनलोड किए गए टॉप 10 एजुकेशन ऐप (Top 10 Education App) में Byju's भी शामिल है. सेंसर टावर (Sensor Tower Report 2020) ने अप्रैल 2020 के लिए जारी एक रिपोर्ट में इस बारे में जानकारी दी है. मार्च 2020 में स्कूल और अन्य शैक्षणिक संस्थाएं बंद होने के बाद बाइजूस ने फ्री लर्निंग प्रोग्राम को ऐलान किया था.

इसके बाद मार्च में इस लर्निंग प्लेटफॉर्म से 60 लाख स्टूडेंट्स जुड़ें हैं. अप्रैल में करीब 75 लाख स्टूडेंट्स ने बाइजूस का इस्तेमाल करना शुरू किया. कोविड-19 की वजह से लॉकडाउन के बीच ऑनलाइन स्टडी प्रोग्राम का चलन तेजी से बढ़ा है.

Byju's के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर, मृणाल मोहित ने कहा, 'हम खुशनसीब हैं​ कि इस संकट में भी हमें पॉजिटिव रिस्पॉन्स मिला है. हमारे ​लर्निंग प्रोग्राम से जुड़ने वाले स्टूडेंट्स की संख्या 3 गुना तक बढ़ी है.'



यह भी पढ़ें: Tata Sky ने किया बड़ा ऐलान! 15 जून से बदलेगा चैनलों का पैकेज, होगी
2015 में हुआ था लॉन्च
स्कूली बच्चों के लिए साल 2015 में बाइजूस ​लर्निंग ऐप को बायजू रविंद्रन ने लॉन्च किया था. इस लर्निंग ऐप में CAT, सिविल सर्विस परीक्षा, JEE, NEET से लेकर प्रबंधन ​ए​डमिशन टेस्ट तक के बारे में पढ़ा जा सकता है. अपने आप में इस अनोखे ऐप में निवेशकों ने हाथों-हाथ निवेश किया है. वेंचर कैपिटल फंड​ सिकोया कैपिटल और बेल्जियम की निवेश कंपनी ने 75 मिलियन डॉलर का निवेश किया था. यह भारत के किसी भी एजुकेशन स्टार्टअप में ​अब तक का सबसे बड़ा निवेश था. कई अन्य कंपनियों ने बाइजूस में भारी निवेश किया है.

फोर्ब्स 100 रिचेस्ट इंडियंस की लिस्ट में रविंद्रन
पिछले साल फोर्ब्स मैगजीन ने 100 रिचेस्ट इंडियंस 2019 (Forbes Richest Indians 2019) लिस्ट में 6 नए नाम शामिल किए गए थे. इन्हीं में से एक नाम बाइजूस - द​ लर्निंग ऐप (Byju's - The Learning App) के 38 वर्षीय संस्थापक बायजू रविंद्रन (Byju Ravindran) का नाम है. आज हम आपको ​बाइजूस के सफलता की कहानी के बारे में बताने जा रहे हैं.

यह भी पढ़ें: गैस सिलेंडर ब्लास्ट होने पर मिलता है 50 लाख रुपये का मुआवजा, ऐसे करें क्लेम

तेजी से बढ़ रहा रेवेन्यू
बाइजूस-द लर्निंग ऐप देश के उन चंद स्टार्टअप में है, जिसने लगातार तीन सालों तक 100 फीसदी ग्रोथ किया है. वित्त वर्ष 2019 में इस कंपनी का ग्रोथ बढ़कर 200 फीसदी हो गया. इसी साल के शुरुआत में बाइजूस ने घोषित किया कि वित्त वर्ष 2019 में कंपनी की रेवेन्यू 1,430 करोड़ रुपये रही. बाइजूस की इस जबरदस्त रेवेन्यू को लेकर कहा जा रहा है कि इस ऐप को देशभर में अधिक से अधिक स्टूडेंट्स पंसद करने लगे हैं. इस ऐप के पेड सब्सक्राइबर्स की संख्या तेजी से बढ़ रही है.

क्यों तेजी से पॉपुलर हो रहा बाइजूस?
बाइजूस को पॉपुलर होने की सबसे खास बात लर्निंग अप्रोच है. इस ऐप में वीडियोज में एनिमेशन, गेमिफिकेशन का इस्तेमाल किया जाता है, जिसे स्टूडेंट्स काफी पसंद करते हैं. हालांकि, इसके लिए बाइजूस टीम को चार साल तक लगातार जमकर मेहनत भी करनी पड़ी. मौजूदा समय में स्टूडेंट्स इस ऐप पर लॉग इन करने के बाद औसतन एक घंटे से भी अधिक समय बिताते हैं.

यह भी पढ़ें:  CBI की चेतावनी! कोरोना लॉकडाउन में हैकर्स ऐसे चुरा रहे हैं आपके बैंक डिटेल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading