रेल यात्रा होगी और सुरक्षित, कैबिनेट ने रेलवे के लिए 5 MHz स्पेक्ट्रम के आवंटन को मंजूरी दी

रेलवे

रेलवे

रेलवे यातायात ज्यादा सुरक्षित करने के लिए 4G स्पेक्ट्रम का रेलवे को ज्यादा आवंटन किया गया है.

  • Share this:

नई दिल्ली. रेल यात्रा को और सुरक्षित बनाने के लिए मोदी सरकार ने बड़ा कदम उठाया है. दरअसल, केंद्रीय कैबिनेट ने बुधवार को भारतीय रेलवे (Indian Railways) को कम्यूनिकेशन और सिग्नलिंग सिस्टम में सुधार के लिए 700 मेगाहर्ट्ज बैंड में पांच मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम के आवंटन को मंजूरी दी.

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि इससे रेलवे को यात्रियों की सुरक्षा में सुधार करने में मदद मिलेगी. जावड़ेकर ने कहा कि इस आवंटन से रेलवे के संचार और सिग्नलिंग नेटवर्क दोनों को बेहतर बनाने में मदद मिलेगी.


करीब 25,000 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत वाली इस परियोजना को अगले पांच वर्षों में पूरा किया जाएगा. रेलवे अभी अपने संचार नेटवर्क के लिए ऑप्टिकल फाइबर पर निर्भर है, लेकिन नए स्पेक्ट्रम के आवंटित होने के बाद वह तेज रफ्तार वाले रेडियो का उपयोग कर सकेगा.
ये भी पढ़ें- सावधान! अगर आपको भी KYC कराने के लिए आया है फोन या SMS तो हो जाएं सतर्क, सरकार ने जारी किया अलर्ट

एक सरकारी प्रवक्ता ने ट्वीट किया, ''कैबिनेट ने भारतीय रेल को स्टेशनों और ट्रेनों में सुरक्षा तथा सुरक्षा सेवाओं के लिए 700 मेगाहर्ट्ज बैंड में पांच मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम के आवंटन को मंजूरी दी, इस पर अनुमानित निवेश 25,000 करोड़ रुपये से अधिक है, यह परियोजना अगले पांच वर्षों में पूरी होगी.''

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज