अरुणाचल प्रदेश में 1600 करोड़ की लागत से बनेगा देश का सबसे बड़ा डैम, कैबिनेट की मंजूरी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय कैबिनेट की बैठक हुई. इस बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए. कैबिनेट ने अरुणाचल प्रदेश में एक हाइड्रो प्रोजेक्ट को मंजूरी दी.

News18Hindi
Updated: July 17, 2019, 5:01 PM IST
अरुणाचल प्रदेश में 1600 करोड़ की लागत से बनेगा देश का सबसे बड़ा डैम, कैबिनेट की मंजूरी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय कैबिनेट की बैठक हुई. इस बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए. कैबिनेट ने अरुणाचल प्रदेश में एक हाइड्रो प्रोजेक्ट को मंजूरी दी.
News18Hindi
Updated: July 17, 2019, 5:01 PM IST
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय कैबिनेट की बैठक हुई. इस बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए. कैबिनेट ने अरुणाचल प्रदेश में एक हाइड्रो प्रोजेक्ट को मंजूरी दी. अरुणाचल प्रदेश में 2880 मेगावॉट के दिवांग मल्टीपर्पज प्रोजेक्ट (MPP) होगा. यह हाइड्रो प्रोजेक्ट 1600 करोड़ रुपये की लागत से बनेगा. इसमें पुनर्वास, सड़क आदि का खर्च शामिल है. यह देश का सबसे बड़ा हाइड्रो प्रोजेक्ट होगा.

278 मीटर होगी डैम की ऊंचाई
प्रकाश जावडेकर ने कहा कि दिबांग मल्टीपर्पज प्रोजेक्ट की ऊंचाई 278 मीटर होगी. यह हाइड्रो प्रोजेक्ट 9 साल में तैयार होगा. इसके बनने में 1600 करोड़ रुपये का खर्च आएगा. देश का सबसे बड़ा हाइड्रो प्रोजेक्ट बनने पर अरुणाचल प्रदेश सरकार को 12 फीसदी बिजली फ्री में मिलेगी. इसके जरिये अरुणाचल सरकार को 26,785 करोड़ रुपये की बिजली मुफ्त में मिलेगी. इस प्रोजेक्ट की लाइफ 40 साल होगी.

ये भी पढ़ें: सरकार को RBI से नहीं मिलेगी एकमुश्त रकम, 3-5 साल में पैसा होगा ट्रांसफर



डैम सेफ्टी बिल को मंजूरी
कैबिनेट ने बांध सुरक्षा विधेयक, 2019 को लागू करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी. इसके अलावा सरकार ने डैम की मरम्मत और रख-रखाव के लिए डैम सेफ्टी बिल 2019 को मंजूरी दी है. देश में 10 हजार से ज्यादा डैम बनाने की योजना है. जिसमें से 5 हजार डैम बने हैं और 4700 डैम निर्माणाधीन हैं.
Loading...



हाल ही में महाराष्ट्र में एक डैम टूट जाने से जानमाल की हानि को देखते हुए सरकार ने डैम सेफ्टी बिल लायी है. डैम सेफ्टी बिल में डैम के इंस्पेक्शन, रिव्यू, इमरजेंसी प्लान, डैम टूटने पर हादसों की जिम्मेदारी तय करना है. यह डैम टूटने के हादसों को टालने में एक अनोखा कदम होगा. इससे जानमाल के नुकसान की गुंजाइश कम होगी.

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान को लगा 8 साल का सबसे बड़ा झटका!
First published: July 17, 2019, 4:16 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...