Home /News /business /

Cabinet Decisions: आंदोलन के बीच गन्‍ना किसानों को केंद्र का बड़ा तोहफा! चीनी निर्यात पर देगी 3500 करोड़ की सब्सिडी

Cabinet Decisions: आंदोलन के बीच गन्‍ना किसानों को केंद्र का बड़ा तोहफा! चीनी निर्यात पर देगी 3500 करोड़ की सब्सिडी

केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि कैबिनेट ने गन्‍ना किसानों के लिए चीनी निर्यात पर 3500 करेाड़ रुपये सब्सिडी को मंजूरी दे दी है.

केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि कैबिनेट ने गन्‍ना किसानों के लिए चीनी निर्यात पर 3500 करेाड़ रुपये सब्सिडी को मंजूरी दे दी है.

Cabinet Decisions: केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने बताया कि आर्थिक मामलों पर कैबिनेट की कमेटी (CCEA) ने गन्‍ना किसानों के लिए चीनी निर्यात (Sugar Export) पर 3,500 करोड़ रुपये सब्सिडी (Subsidy) दिए जाने को मंजूरी दे दी है. इससे देश के 5 करोड़ गन्‍ना किसानों (Sugarcane Farmers) को सीधे फायदा मिलेगा. उन्‍होंने बताया कि इस बार 60 लाख टन चीनी निर्यात की जाएगी.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्‍ली. नए कृषि कानूनों (New Farm Laws) को लेकर चल रहे आंदोलन के बीच केंद्र सरकार ने देश के गन्‍ना किसानों (Sugarcane Framers) को बड़ा तोहफा दिया है. कैबिनेट की बैठक (Cabinet Meeting) में फैसला लिया गया कि गन्‍ना किसानों को 3500 करोड़ रुपये निर्यात सब्सिडी (Subsidy), 18 हजार करोड़ रुपये निर्यात लाभ के साथ ही दूसरी सब्सिडी भी दी जाएगी. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने बताया कि इस साल सरकार ने 60 लाख टन चीनी निर्यात (Sugar Export) करने का फैसला किया है. इस पर सब्सिडी सीधे गन्‍ना किसानों के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर (DBT) की जाएगी.

    एक हफ्ते में मिलेगी 5000 करोड़ रुपये तक की सब्सिडी
    केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि सरकार सब्सिडी के तौर पर 3500 करोड़ रुपये देगी. सरकार के इस फैसले से देश के पांच करोड़ गन्‍ना किसानों और पांच लाख मजदूरों (Laborer) को सीधा फायदा होगा. उन्‍होंने बताया कि एक हफ्ते के भीतर 5000 करोड़ रुपये तक की सब्सिडी किसानों को मिलेगी. साथ ही उन्‍होंने बताया कि 60 लाख टन चीनी को 6 हजार रुपये प्रति टन के हिसाब से निर्यात किया जाएगा. उनके मुताबिक, इस साल चीनी का उत्पादन 310 लाख टन होगा. वहीं, देश की खपत 260 लाख टन है. चीनी का दाम कम होने की वजह से किसान और चीनी मिलें संकट में हैं.

    ये भी पढ़ें- Budget 2021: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, इंफ्रास्ट्रक्चर पर खर्च बनाए रखने पर रहेगा जोर



    क्‍यों लिया गया 60 लाख टन चीनी निर्यात का फैसला
    जावड़ेकर ने कहा कि किसानों और शुगर मिलों की समस्‍याओं से निपटने के लिए कैबिनेट की आर्थिक मामलों की समिति (CCEA) ने 60 लाख टन चीनी निर्यात करने को मंजूरी दी है. साथ ही गन्‍ना किसानों को निर्यात पर सब्सिडी देने का फैसला भी लिया गया है. उन्‍होंने कहा कि किसान शुगर मिल को गन्‍ना बेचते हैं. फिर शुगर मिलों में अतिरिक्‍त शुगर स्‍टॉक (Surplus Sugar Stock) पड़े रहने के कारण मिल मालिक गन्‍ना किसानों का भुगतान (Dues) समय पर नहीं कर पाते हैं. इस समस्‍या को ध्‍यान में रखते हुए सरकार ने चीनी के अतिरिक्‍त स्‍टॉक को निकालने और किसानों को समय पर गन्‍ना भुगतान कराने के लिए ही चीनी निर्यात का फैसला लिया है.undefined

    Tags: Cabinet decision, Cabinet meeting news today, Central government, Farmers Protest, Prakash Javadekar, Sugarcane Farmer

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर