लाइव टीवी

मोदी सरकार ने थोड़ी देर पहले लिए ये 3 बड़े फैसले, आपकी जेब पर पड़ेगा असर

News18Hindi
Updated: March 4, 2020, 4:43 PM IST

आज कैबिनेट में कई बड़े फैसलों को मंजूरी मिली है. इसमें तीन फैसले बहुत अहम हैं. इसमें सबसे बड़ा फैसला बैंकों के मर्जर को लेकर किया गया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में कई बड़े फैसले लिए गए है. इसमें तीन फैसले बहुत अहम हैं. इसमें सबसे बड़ा फैसला सरकारी बैंकों के मर्जर को लेकर किया गया है. 10 सरकारी बैंकों के मर्जर को कैबिनेट से मंजूरी मिल गई है. कैबिनेट ने सिविल एविएशन सेक्टर में विदेशी निवेश के नियमों में भी ढील देने का भी फैसला लिया है जिसके बाद एयर इंडिया में 100 फीसदी विदेशी निवेश का भी रास्ता साफ हो जाएगा. इन सभी फैसलों का आम आदमी पर भी असर होगा.

आइए आपको बताते हैं इन फैसलों के बारे में पूरी जानकारी...

सरकारी बैंकों के मर्जर पर हुआ फैसला- सरकारी बैंकों के मर्जर योजना के तहत 10 बैंकों को मिलाकर 4 बैंक बनाए जाएंगे.  PNB के साथ OBC और United Bank को मिलाया जाएगा. वहीं, Canara Bank और Syndicate Bank को मिलाया जाएगा. Union Bank के साथ Andhra Bank और Corp Bank का विलय होगा. वहीं, Indian Bank और Allahabad Bank का विलय होगा.

ये भी पढ़ें: 1 अप्रैल से बदल जाएंगे पैसे से जुड़े ये नियम, जानें आपको होगा फायदा या नुकसान?



इससे क्या होगा असर-विलय के बाद अब ग्राहकों को नया अकाउंट नंबर और कस्टमर आईडी मिल सकता है. जिन ग्राहकों को नए अकाउंट नंबर या IFSC कोड मिलेंगे, उन्हें नए डिटेल्स इनकम टैक्स डिपार्टमेंट, इंश्योरंस कंपनियों, म्यूचुअल फंड, नेशनल पेंशन स्कीम (एनपीएस) आदि में अपडेट करवाने होंगे. SIP या लोन EMI के लिए ग्राहकों को नया इंस्ट्रक्शन फॉर्म भरना पड़ सकता है. साथ ही इस विलय के बाद जो नया बैंक अस्‍तित्‍व में आएगा उसकी 10 हजार से अधिक ब्रांच खुलेंगी.

और अधिक जानने  के लिए लिंक पर क्लिक करें- PNB समेत इन 10 बैंकों के मर्जर को मिली मंजूरी, 1 अप्रैल से ग्राहकों के खाते और पैसों पर होगा ये असर
कंपनीज एक्ट में हुए कई बड़े बदलाव- कैबिनेट ने कंपनी एक्ट में बदलाव को भी मंजूरी दे दी है. 40 कानूनों को आपराधिक दर्जे से बाहर किया जाएगा.


इससे क्या होगा असर - कैबिनेट फैसलों की जानकारी देते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बाताया कि कंपनीज एक्ट में कुल 72 बदलावों को मंजूरी दी गई है. इससे देश में विदेशी निवेश बढ़ेगा. लिहाजा देश में नौकरियों के ज्यादा मौके बनेंगे.

एविएशन में एफडीआई पर हुआ फैसला - कैबिनेट ने सिविल एविएशन में FDI नियमों में बदलाव को भी मंजूरी दे दी है. जिससे अब Air India में 100 फीसदी FDI का रास्ता साफ हो गया है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 4, 2020, 2:59 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर