Home /News /business /

Cabinet Meeting Today: सेमी-कंडक्टर प्रोडक्‍शन के लिए PLI स्‍कीम को मिलेगी मंजूरी! क्रिप्‍टोकरेंसी बिल पर नहीं होगी चर्चा

Cabinet Meeting Today: सेमी-कंडक्टर प्रोडक्‍शन के लिए PLI स्‍कीम को मिलेगी मंजूरी! क्रिप्‍टोकरेंसी बिल पर नहीं होगी चर्चा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्‍यक्षता में आज दोपहर 3 बजे से कैबिनेट की बैठक होगी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्‍यक्षता में आज दोपहर 3 बजे से कैबिनेट की बैठक होगी.

Cabinet Meeting Today 15 December 2021: सेमीकंडक्टर सभी तरह के इलेक्ट्रॉनिक उत्पादों में लगने वाला अहम कलपुर्जों है. पूरी दुनिया में सेमीकंडक्टर की आपूर्ति में कमी (Semi-Conductor Shortage) से स्मार्टफोन, लैपटॉप, कार और तमाम तरह के उत्पादों के प्रोडक्शन पर बुरा असर पड़ा है. ऐसे में उम्‍मीद है कि कैबिनेट सेमीकंडक्‍टर प्रोडक्‍शन लिए पीएलआई स्‍कीम (PLI Scheme) को मंजूरी दे देगी.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्‍ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की अध्‍यक्षता में आज हो रही कैबिनेट की बैठक में सेमी-कंडक्टर के उत्‍पादन के लिए प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव (PLI Scheme) पर विचार किया जा सकता है. सरकार देश में सेमी-कंडक्टर प्रोडक्शन के लिए अगले 6 साल के लिए 76,000 करोड़ रुपये की पीएलआई स्कीम को मंजूरी दे सकती है. इस इनसेटिंव को 3 तरीके से दिया जा सकता है. इसमें 25 फीसदी इंसेंटिव कैपिटल कंपाउंड सेमी-कंडक्टर वेफर फ्रैबरीकेशन, असेंबलिंग, टेस्टिंग, पैकेजिंग और उत्पादन के लिए लगाई जाने वाली ईकाई के पूंजी खर्च पर दिया जा सकता है.

    सेमी-कंडक्टर के डिजाइनिंग विकास और उत्पादन पर काम करने वाले स्टार्टअप को भी इंसेंटिव देने का प्रस्ताव है. वहीं, कैबिनेट बैठक में आज बैंकिंग कानून विधेयक 2021 (Banking Laws Bill 2021) और क्रिप्‍टोकरेंसी से जुड़ा बिल (Cryptocurrency Bill) एजेंडे में शामिल नहीं है. संसद सत्र अगले हफ्ते समाप्त हो रहा है. अगर आज कैबिनेट में मंजूरी नहीं मिलती है तो इस सत्र में बिल आने की उम्‍मीद काफी कम रह जाएगी. बता दें कि शीतकालीन सत्र में ही बैंकिंग कानून विधेयक लाने की तैयारी की जा रही है. विधेयक में पीएसयू बैंकों के निजीकरण का प्रावधान है.

    ये भी पढ़ें – करोड़ों किसानों के लिए खुशखबरी: कल आ सकती है पीएम किसान की 10वीं किस्त, इन किसानों को मिलेंगे 4000 रुपये

    2 सरकारी बैंकों में अपनी हिस्‍सेदारी घटा सकता है केंद्र
    मोदी सरकार जल्द ही 2 सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों का निजीकरण (Bank Privatization) कर सकती है. दो सरकारी बैंकों को प्राइवेट करके केंद्र इनमें अपनी न्यूनतम 51 फीसदी हिस्सेदारी को घटाकर 26 फीसदी कर सकता है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) ने फरवरी में 2021-22 का बजट पेश करते हुए विनिवेश कार्यक्रम के तहत सार्वजनिक क्षेत्र के दो बैंकों के प्राइवेटाइजेशन की घोषणा की थी. चालू वित्त वर्ष में विनिवेश से 1.75 लाख करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य रखा भी गया है. हालांकि, आज कैबिनेट बैठक में बैंकिंग कानून विधेयक पर चर्चा नहीं होगी.

    ये भी पढ़ें – CBDT ने टैक्सपेयर की जानकारी के e-verification के लिए योजना शुरू की, जानिए क्या होंगे फायदे

    क्रिप्‍टोकरेंसी बिल पर पिछली बैठक में नहीं हुई थी चर्चा
    कैबिनेट बैठक में क्रिप्‍टोकरेंसी बिल पर चर्चा की उम्‍मीद काफी कम है. पिछले हफ्ते हुई कैबिनेट की बैठक में भी इस बिल पर चर्चा नहीं हो पाई थी. केंद्र सरकार क्रिप्‍टोकरेंसी को असेट के तौर पर रखने की मंजूरी देने पर विचार कर रही है. सरकार ने साफ कर दिया है कि क्रिप्‍टोकरेंसी को मुद्रा के तौर पर मान्‍यता नहीं दी जाएगी. बता दें कि सरकार आगामी बजट में मौजूदा इनकम टैक्स और डिस्कलोजर नियमों में संशोधन करके इसमें क्रिप्टोकरेंसी जैसे शब्दों को शामिल कर सकती है.

    Tags: Banking reforms, Cabinet decision, Cabinet meeting, Crypto Ki Samajh, Cryptocurrency, Modi cabinet meeting today, Pm narendra modi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर