अपना शहर चुनें

States

खुशखबरी! केनरा बैंक ने बढ़ाई FD की ब्याज दरें, चेक करें नए रेट्स

केनरा बैंक की ब्याज दरें सरकारी बैंकों में सबसे अधिक हो गई हैं.
केनरा बैंक की ब्याज दरें सरकारी बैंकों में सबसे अधिक हो गई हैं.

सरकारी क्षेत्र के केनरा बैंक (Canara Bank) ने फिक्स्ड डिपॉजिट (Fixed Deposit) पर ब्याज दरें (Interest Rate) बढ़ाने की घोषणा की है.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते ठप हुई इकोनॉमी (Economy) के कारण बैंक में जमा राशि पर मिलने वाली ब्याज दर (Rate of Interest) में पिछले कुछ समय में काफी कटौती हुई है. वहीं, सरकारी क्षेत्र के केनरा बैंक (Canara Bank) ने फिक्स्ड डिपॉजिट (Fixed Deposit) पर ब्याज दरें (Interest Rate) बढ़ाने की घोषणा की है.

बैंक ने कम से कम दो साल की मैच्योरिटी पीरियड की फिक्स्ड डिपॉजिट पर ब्याज दर में 0.2 प्रतिशत की बढ़ोतरी की है. केनरा बैंक ने गुरुवार को बयान में कहा, ''इस बढ़ोतरी के बाद कम से कम दो साल और तीन साल से कम की मैच्योरिटी पीरियड की फिक्स्ड डिपॉजिट पर अब 5.4 प्रतिशत का ब्याज दिया जाएगा. पहले यह ब्याज दर 5.2 प्रतिशत था.''

ये भी पढ़ें- दिल्ली में सीलिंग के मुद्दे पर CAIT ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखी चिट्ठी, मांगी मदद



नई दरें 27 नवंबर से प्रभावी
इसके अलावा तीन से 10 साल की मैच्योरिटी पीरियड की फिक्स्ड डिपॉजिट पर ब्याज दर को 5.3 से बढ़ाकर 5.5 प्रतिशत किया गया है. बयान में कहा गया है कि संशोधित दरों पर वरिष्ठ नागरिकों को आधा प्रतिशत ब्याज अधिक दिया जाएगा. नई दरें 27 नवंबर से प्रभावी हो गई हैं.

सरकारी बैंकों में सबसे ज्यादा ब्याज केनरा बैंक में
बयान में कहा गया है कि ब्याज दरों में संशोधन के बाद 2 से 10 साल की मैच्योरिटी पीरियड की फिक्स्ड डिपॉजिट पर सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में केनरा बैंक सबसे अधिक ब्याज दे रहा है.

ये भी पढ़ें- MDH Owner Death: धर्मपाल गुलाटी कभी तांगा चलाकर करते थे कमाई जानें कैसे खड़ा किया करोड़ों का बिजनेस

SBI लेटेस्ट एफडी रेट्स (2 करोड़ से कम)
दूसरी ओर, देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक SBI में एफडी पर ब्याज की सबसे कम दर 2.9 फीसदी है. वहीं, सबसे ज्यादा 5.4 फीसदी है. बता दें ये ब्याज की दर 7 दिन से लेकर 10 साल तक की हैं.
7 days to 45 days - 2.9%
46 days to 179 days - 3.9%
180 days to 210 days - 4.4%
211 days to less than 1 year - 4.4%
1 year to less than 2 years - 4.9%
2 years to less than 3 years - 5.1%
3 years to less than 5 years - 5.3%
5 years and up to 10 years - 5.4%
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज