• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • CANARA BANK SAID CANARA BANK SYNDICATE BANK WILL BE DISABLED FROM 1 JULY 2021 NDSS

Canara Bank ग्राहकों लिए बड़ी खबर, 30 जून से पहले अपडेट करा लें ये कोड, वरना नहीं होगा पैसा ट्रांसफर

30 जून से पहले अपडेट करा लें IFSC Code

केनरा बैंक (Canara Bank) में खाता रखने वाले ग्राहकों के लिए ग्राहकों के लिए जरूरी खबर है. बैंक ग्राहकों की पुरानी चेकबुक 30 जून तक ही काम करेगी.

  • Share this:
    नई दिल्ली: केनरा बैंक (Canara Bank) में खाता रखने वाले ग्राहकों के लिए ग्राहकों के लिए जरूरी खबर है. अगर आपका भी खाता है तो आप जान लें कि 1 जुलाई से आप पैसों का ट्रांजेक्शन नहीं कर पाएंगे. बता हाल ही में केनरा बैंक में सिंडिकेट बैंक (Syndicate Bank) का मर्जर हुआ है, जिसके बाद ग्राहक पुरानी ही चेकबुक का इस्तेमाल कर रहे थे, लेकिन आप सिर्फ 30 जून तक ही इसका इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके बाद सभी ग्राहकों का IFSC कोड डिसेबल (IFSC codes disabled) कर दिए जाएंगे यानी आप पुराने कोड का इस्तेमाल करके पैसा ट्रांसफर नहीं कर पाएंगे.

    बैंक की ओर से ट्वीट करके इस बारे में जानकारी दी गई है. बैंक ने ट्वीट में लिखा है कि ग्राहकों की पुरानी चेकबुक 30 जून तक ही काम करेगी. इसके बाद आप इसका इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे.

    यह भी पढ़ें: अगर आप भी लेने जा रहे LIC पॉलिसी तो हो जाएं सावधान, नहीं तो डूब जाएगा सारा पैसा...!

    1 जुलाई से हो जाएंगे डिसेबल
    केनरा बैंक ने ग्राहकों को जानकारी देते हुए कहा कि केनरा बैंक के साथ सिंडिकेट बैंक के विलय के बाद, SYNB से शुरू होने वाले सभी ई-सिंडिकेट IFSC कोड बदल दिए गए हैं. SYNB से शुरू होने वाले सभी IFSC W.E.F 01.07.2021 से डिसेबल हो जाएंगे.

    इसके अलावा बैंक ने वेबसाइट पर भी बयान जारी कर इस बारे में जानकारी दी है. बैंक ने लिखा है कि आप सेंडर्स को NEFT/RTGS/IMPS भेजते समय केवल CNRB से शुरू होने वाले अपने नए IFSC कोड का उपयोग करने की सूचना दें. वहीं, SYNB से शुरू होने वाले कोड काम नहीं करेंगे.

    क्या होता है IFSC Code?
    IFSC (Indian Financial System Code) एक यूनिक 11-डिजीट अल्फ़ान्यूमेरिक कोड होता है जिसका उपयोग NEFT, RTGS और IMPS के माध्यम से किए गए ऑनलाइन फंड ट्रांसफर लेनदेन के लिए किया जाता है.

    यह भी पढ़ें: अब बिना नौकरी और बिजनेस के कमाएं पैसा, इन 4 तरीकों से हो जाएंगे मालामाल!

    वित्तमंत्री ने किया था ऐलान
    बता दें कि वर्ष 2019 वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 10 सरकारी बैंक को मर्ज कर 4 बड़े सरकारी बैंक बनाने का ऐलान किया था. जबकि विलय अप्रैल 2020 में लागू हुआ. इसके बाद 1 अप्रैल 2021 से बैंकों का IFSC और MICR कोड अपडेट होना शुरू हुआ है. केनरा बैंक के अलावा बैंक ऑफ बड़ौदा, देना बैंक, विजया बैंक, कॉरपोपेशन बैंक, आंध्रा बैंक, सिंडिकेट बैंक, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और इलाहाबाद बैंक के ग्राहक शामिल हैं. इन बैंकों का अन्य बैंकों में विलय कर दिया गया था.
    Published by:Shivani sharma
    First published: