• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • कैंसर, डायबिटीज और हार्ट अटैक से जुड़ी विदेशी दवाइयां होंगी सस्ती

कैंसर, डायबिटीज और हार्ट अटैक से जुड़ी विदेशी दवाइयां होंगी सस्ती

कैंसर, डायबिटीज और हार्ट अटैक से जुड़ी महंगी विदेशी दवाइयां होंगी सस्ती, ये हैं सरकार का नया प्लान

कैंसर, डायबिटीज और हार्ट अटैक से जुड़ी महंगी विदेशी दवाइयां होंगी सस्ती, ये हैं सरकार का नया प्लान

सीएनबीसी आवाज़ को सूत्रों की ओर से मिली जानकारी में पता चला है कि सरकार विदेशी दवाओं पर इंपोर्ट लाइसेंस शुल्क और रजिस्ट्रेशन शुल्क 50 फीसदी तक बढ़ाने की तैयारी में है.

  • Share this:
    (प्रतीक श्रीवास्तव, सीएनबीसी आवाज़)

    कैंसर, डायबिटीज और हार्ट अटैक जैसी बीमारियों से जुड़ी महंगी विदेशी दवाइयां जल्द सस्ती हो सकती हैं. सीएनबीसी आवाज़ को सूत्रों की ओर से मिली जानकारी में पता चला है कि सरकार विदेशी दवाओं पर इंपोर्ट लाइसेंस शुल्क और रजिस्ट्रेशन शुल्क 50 फीसदी तक बढ़ाने की तैयारी में है. अगर ऐसा होता है तो विदेशों से इन दवाओं को लाना बहुत ज्यादा महंगा हो जाएगा. लिहाजा ये कंपनियां देश में ही इन दवाओं को बनाएंगी. आपको बता दें कि भारत में हर साल 10,000 करोड़ रुपये की दवाएं आयात होती हैं. भारत अपनी कुल जरूरत की 9 फीसदी दवाएं आयात करता है.

    ये भी पढ़ें-150 रुपए में खरीदें ये सभी सामान, यहां लगी है बड़ी Sale

    क्या है प्लान- सरकार शुल्क बढ़ाने की तैयारी में है. शुल्क बढ़ने से विदेशी दवा कंपनियां घरेलू उत्पादन को बढ़ावा देंगी, जिससे दवाईयां सस्ती मिल सकेंगी. अगर ऐसा होता है तो कैंसर, डायबिटीज, हार्ट अटैक की दवाएं सस्ती होंगी.

    ये भी पढ़ें-सावधान! कैश निकालने से पहले जरूर चेक करें ATM की ये लाइट, खाली हो जाएगा बैंक खाता

    इससे क्या होगा- इंपोर्ट लाइसेंस शुल्क और रजिस्ट्रेशन शुल्क बढ़ने से विदेशी मैन्युफैकचरर्स के लिए मुश्किल हो सकती है. इस फैसले से पहले सरकार दवा कंपनियों से सुझाव लेगी.इस फैसले के पीछे की वजह महंगी विदेशी दवाओं को सस्ता करना, पेटेंटेड दवाओं के घरेलू उत्पादन को बढ़ावा देना, देश में खुद दवा बनाने पर जोर, दूसरे देशों पर आत्मनिर्भरता खत्म करना और फार्मा सेक्टर में मेक इन इंडिया को बढ़ावा देना है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज