एन चंद्रशेखरन बोले- कार, फ्लाइट, होटल सहित टाटा ग्रुप के Super App में जुडेंगी कई कैटेगरी

टाटा ग्रुप चेयरमैन एन चंद्रशेखरन

टाटा ग्रुप चेयरमैन एन चंद्रशेखरन

टाटा ग्रुप नए बने टाटा डिजिटल (Tata Digital) के तहत सुपर ऐप (Super App) का निर्माण कर रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 19, 2021, 11:31 PM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. टाटा ग्रुप (Tata Group) का लक्ष्य इलेक्ट्रॉनिक्स, ग्रोसरी, फैशन और लाइफस्टाइल, ब्यूटी, ट्रैवल, स्वास्थ्य, शिक्षा और मनोरंजन जैसी कैटेगरी को जोड़कर अपनी सुपर ऐप (Super App) योजना को पूरा करना है. इन कैटेगरी को एक क्रम में जोड़ा जाएगा न कि एक बार में. बिजनेसटूडे को दिए एक इंटरव्यू में टाटा ग्रुप चेयरमैन एन चंद्रशेखरन (N Chandrasekaran) ने ये बातें कही.

टाटा डिजिटल के तहत सुपर ऐप का निर्माण

टाटा ग्रुप नए बने टाटा डिजिटल (Tata Digital) के तहत सुपर ऐप का निर्माण कर रहा है. यह ई-कॉमर्स के लिए ग्रुप की महत्वाकांक्षी योजना है. ग्रुप ऑनलाइन किराने की कंपनी बिगबास्केट (BigBasket) और ई-फार्मेसी चेन 1mg में हिस्सेदारी खरीदना चाहता है. हालांकि, इस मामले में टाटा और बिगबास्केट ने आधिकारिक बयान जारी नहीं किया है.

ये भी पढ़ें- Indian Railways News: दिल्ली-NCR आने-जाने वाले लाखों ट्रेन यात्रियों के लिए बड़ी खुशखबरी, ये ट्रेनें अब गाजियाबाद में भी रुकेंगी
चंद्रशेखरन ने कहा कि हमारा प्रत्येक ब्रांड 10 से 20 मिलियन ग्राहकों को सेवा प्रदान करता है. हम उपभोक्ताओं को जरुरी प्रोडक्ट और सर्विस को देने की कोशिश कर रहे हैं. जरूरी नहीं कि केवल टाटा ब्रांड ही हो, बल्कि यह एक ओपन आर्किटेक्चर है. हमारे पास एक मजबूत लॉयल्टी प्रोग्राम, पेमेंट इंजन, फाइनेंशियल प्रोडक्ट्स और अन्य कैटेगरी होगी.

सुपर ऐप की लॉन्चिंग की तारीख तय नहीं

सुपर ऐप की लॉन्चिंग के समय के बारे में पूछे जाने पर चंद्रशेखरन तारीख बताने से इनकार कर दिया. हालांकि, उन्होंने कहा कि ग्रुप सुपर ऐप के माध्यम से उपभोक्ताओं के जीवन को आसान बनाने का इरादा रखता है.



ये भी पढ़ें- सरकार का तोहफा: अब ESIC कार्ड वाले प्राइवेट अस्‍पताल में करा सकेंगे इलाज, जानिए पूरी डिटेल्स

चंद्रशेखरन ने कहा, ''ग्रुप के पास बहुत बड़ी संख्या में उपभोक्ता हैं. वे ब्रांड से प्यार करते हैं और ग्रुप के साथ बिजनेस करना चाहते हैं. लेकिन हमें उन्हें ऐसे प्रोडक्ट और सर्विस देने की आवश्यकता है जो न केवल उनकी आवश्यकताओं को पूरा करें बल्कि उनके जीवन को भी सरल बनाएं.''

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज