पीएम मोदी ने कैश को लेकर किया नया ऐलान! इन 7 सख्त नियमों को तोड़ने पर घर आएगा टैक्स नोटिस

देश में कैश में खरीद-फरोख्‍त (Cash Transaction) एक सीमा तय है. सरकार ने इसके लिए भी नियम बनाए हैं और अगर उनको नजरअंदाज किया गया, तो आपकी जेब पर भी गाज गिर सकती है.आपको भारी पेनाल्टी देनी पड़ सकती है.

News18Hindi
Updated: August 16, 2019, 6:08 AM IST
पीएम मोदी ने कैश को लेकर किया नया ऐलान! इन 7 सख्त नियमों को तोड़ने पर घर आएगा टैक्स नोटिस
देश में कैश में खरीद-फरोख्‍त एक सीमा तय है. सरकार ने इसके लिए भी नियम बनाएं हैं और अगर उनको नजरअंदाज किया गया तो आपको भारी पेनाल्टी देनी पड़ सकती है.
News18Hindi
Updated: August 16, 2019, 6:08 AM IST
देश के 73वें स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने लाल किले से तिरंगा फहराने के बाद देशवासियों से डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने पर जोर दिया. साथ ही उन्होंने एक नारा दिया 'लकी कल के लिए लोकल'. पीएम ने डिजिटल पेमेंट को हां और नकद को ना करने की अपील की. लालकिले से संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमें डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देना होगा. पीएम ने कहा, 'मैं व्यापारियों को कहूंगा कि आप बोर्ड लगाते हैं- आज नकद, कल उधार. मैं चाहता हूं कि आप अब बोर्ड लगाएं 'डिजिटल पेमेंट को हां, नकद को ना', लेकिन देश में कैश में खरीद-फरोख्‍त की एक सीमा तय है. सरकार ने इसके लिए भी नियम बनाएं हैं और अगर उनको नजरअंदाज किया गया, तो आपको भारी पेनाल्टी देनी पड़ सकती है.

आज हम आपको बताएंगे-कैश में लेन-देन से जुड़े 7 नियम के बारे में...

टैक्स एक्सपर्ट बताते हैं कि मोदी सरकार ने कैश लेने के लिए खास नियम बनाए हैं. इन नियमों में प्रॉपर्टी बेचने पर कैश में ज्‍यादा लेन-देन नहीं कर सकते.

(1) घर में कैश रखने की लिमिट क्या है- टैक्स एक्सपर्ट्स बताते हैं कि घर में कैश रखने की कोई सीमा तय नहीं है. लेकिन घर में रखे कैश का सोर्स बताना जरूरी होता है. अगर कोई  सोर्स नहीं बता पता है, तो उस मामले में 137% तक पेनाल्टी लगाई जा सकती है.

ये भी पढ़ें-खुशखबरी! 59 मिनट में होम और पर्सनल लोन देगा ये बैंक

(2) बैंक से कैश निकालने और जमा करने का नियम क्या है- इस टैक्स एक्सपर्ट्स का कहना है कि बैंक खातों से कैश निकालने पर फिलहाल कोई टैक्स नहीं लगता है. 5 जुलाई 2019 को पेश हुए बजट में कैश निकासी पर टैक्स को लेकर घोषणा हुई है. वह यह है कि 1 करोड़ रुपये से ज्यादा कैश निकालने पर 2 फीसदी TDS कटेगा.

>> बैंक में कैश जमा करवाने की कोई लिमिट नहीं है. नियम डिपॉजिट रकम की जानकारी देने को लेकर है. सेविंग अकाउंट को लेकर कुछ नियम तय किए गए हैं.  एक बार में 2 लाख रुपये या उससे ज्यादा जमा किया.
Loading...

बैंक से कैश निकालने और जमा करने का नियम क्या है


>> लेकिन सेविंग अकाउंट में 50,000 रुपए से ज्यादा कैश जमा कर रहे हैं तो ऐसे में आपको पैन कार्ड नंबर देना जरूरी है. कैश में पे-ऑर्डर या डिमांड ड्राफ्ट भी बनवा रहे हैं तो  पे ऑर्डर-DD के मामले में भी पैन नंबर देना होगा.

>> एक साल में 10 लाख रुपये या उससे ज्यादा जमा किया तो  ऐसे में नाम एनुअल इंफोर्मेशन रिपोर्ट में जाएगा. वहीं, सेविंग खाते के अलावा चालू खाते के लिए यह लिमिट 50 लाख रुपये तय है.

(3) अगर प्रॉपर्टी बेचने पर कैश मिले तो- टैक्स एक्सपर्ट्स की मानें तो प्रॉपर्टी बेचने पर कैश लेने की सीमा तय है. अब आप सिर्फ 20,000 रुपये कैश का लेन-देन कर सकते हैं. अब 20,000 रुपये से ज्यादा कैश लेने पर 100 फीसदी पेनाल्टी लगेगी.

ये भी पढ़ें-स्वतंत्रता दिवस पर किसानों को मिला तोहफा! इतने रुपये तक सस्ता हुआ खाद

(4) अगर कैश में पेमेंट करना हो तो क्या नियम है- कैश में भुगतान की सीमा भी पहले से तय है. आपके अपने निजी खर्च-कारोबारी खर्च के लिए नियम भी तय है. निजी खर्च के लिए 2 लाख रुपये तक कैश भुगतान होता है. वहीं, बिजनेस के लिए 10,000 रुपये तक कैश लिमिट तय है.

अगर कैश में पेमेंट करना हो तो क्या नियम है (फाइल फोटो)


(4) शादी में कैश खर्च करने के नियम क्या है- टैक्स एक्सपर्ट गौरी चड्ढ़ा बताती हैं कि शादी में कैश खर्च करने पर कोई लिमिट नहीं है. शादी में नकम के इस्तेमाल को लेकर नियम हैं.

>> 2 लाख रुपये से ज्यादा एक व्यक्ति से खरीदारी की है तो ऐसे में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के पास आपका नाम जाएगा.

>> ऐसे में जरूरत पड़ने पर विभाग सोर्स पूछ सकता है. अगर आप सही जवाब नहीं दे पाए तो 78% टैक्स और ब्याज लगेगा.

(5) गिफ्ट कैश देने का नियम क्या है-गौरी कहती हैं कि कैश में गिफ्ट आप एक तय सीमा तक दे सकते हैं. 2 लाख रुपये से कम कैश आप गिफ्ट में दे सकते हैं. अगर 2 लाख रुपये से ज्यादा कैश गिफ्ट पर 100% पेनाल्टी लगेगी.

>> वहीं, 2 लाख रुपये की छूट भी सिर्फ रिश्तेदारों के लिए है. रिश्तेदारों के अलावा किसी और से कैश गिफ्ट देना है तो ऐसे में 50,000 रुपये से ज्यादा गिफ्ट नहीं ले सकते. ऐसे में 50,000 रुपये से ज्यादा लिया तो टैक्स देना पड़ेगा.

गिफ्ट कैश देने का नियम क्या है


(6) कैश में लोने लेने का नियम का क्या है- अगर कोई आपको लोन की रकम बैंक सीधे अकाउंट में ही भेजता है तो यह सीमा 20 हजार रुपये है. वहीं, 20,000 रुपये से ज्यादा कैश लोन लिया तो 100 फीसदी पेनाल्टी देनी होगी.

(7) कैश में दान देने का नियम क्या है- कैश में डोनेशन दे रहे हैं तो सिर्फ 2000 रुपए तक दें. 2000 रुपए से ज्यादा कैश दान दिया तो 80G में छूट नहीं मिलेगी. इनकम टैक्स में 80G के तहत डोनेशन पर छूट मिलती है.

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 16, 2019, 5:32 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...