Castrol Activ, #ProtectIndiasEngine कैंपेन के ज़रिए एक उदाहरण सेट करता है

Castrol Activ, #ProtectIndiasEngine कैंपेन के ज़रिए एक उदाहरण सेट करता है
Castrol Activ, #ProtectIndiasEngine कैंपेन के ज़रिए एक उदाहरण सेट करता है

दक्षिण भारत और हिन्दी जगत के जाने-माने अभिनेता - शाइन शेट्टी ,गणेश वेंकटराम और रवि दुबे भी इस कैंपेन से जुड़े और अपना संदेश लोगो तक पहुँचाया।

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 10, 2020, 4:45 PM IST
  • Share this:
ये समय है हमारे आस-पास के मकैनिक भाइयों की ओर ध्यान देने का और बेहतर कल के लिए उन्हें तैयार रहने में मदद करने का ताकि वे हमें #NonStop आगे बढ़ने में मदद करते रहें

जहाँ मुश्किल समय होता है वहीं उन मुश्किलों का सामना करने वाले भी होते हैं। भारत के युवाओं की बाधाओं को पार करके नामुमकिन को मुमकिन बनाने की छवि बहुत पहले से है। जब महामारी हुई, तो वही जज्बा दिखाई दिया। देश में कभी भी मदद के लिए हाथ कम नहीं पड़े क्योंकि युवा स्वयंसेवक उन ज़रूरतमंद लोगों की मदद के लिए पहुँचे जिन्हें खाने, देखभाल और छत की ज़रूरत थी। उनके निःस्वार्थ भाव से किए गए इस काम में उनकी मदद की दो पहिया वाहनों ने जिससे वे दूरदराज के समुदायों तक मदद के समय आसानी से पहुँच पाए।

लेकिन सुगमता से पहुँचना ही अहम वजह नहीं है बल्कि ज़िम्मेदारी का एहसास है जो युवाओं को बदलाव का ज़रिया बनाता है और इसमें उनके दो पहिया वाहन उनके सबसे अच्छे साथी की तरह हैं। इसी वजह से दो पहिया वाहन, नौजवान भारत की पहचान के तौर पर बेहद महत्वपूर्ण हैं। आज की पीढ़ी जो आसमान छूने की चाहत रखती है, ऐसे में वे लोग जो उनके सपनों के पहियों को उड़ान भरने में मदद करते हैं, वो हैं उनके पड़ोस के भरोसेमंद, मकैनिक। कई सालों से उन्होंने हमारे वाहनों की वक्त बेवक्त मरम्मत करके आगे बढ़ने में हमारी मदद की है।



दुर्भाग्य से, अब इन मकैनिक भाइयों को हमारी सहायता की आवश्यकता है।
माहमारी और उसके बाद का लॉकडाउन मकैनिक और उनके कारोबार के लिए खास तौर पर बहुत भारी पड़ा है। हालांकि कई मकैनिक भाइयों को मजबूरन कुछ समय के लिए काम बंद करना पड़ा लेकिन वाहनों का कम इस्तेमाल और सेहत से जुड़ें मुद्दों पर ध्यान देकर आगे की रिकवरी भी धीमी हो रही है। इस वजह से मकैनिक भाइयों की मौजूदा आमदनी पर भारी असर पड़ा है, इसने उनके भविष्य की संभावनाओं को भी खतरे में डाल दिया है। इन मकैनिक भाइयों के बिना, जो हमें #NonStop आगे बढ़ने में सहायता करते हैं, भारतीयों के सफ़र का अनुभव पहले जैसा नहीं रहेगा।

Castrol Activ कई सालों से हमारे मकैनिक भाइयों की भलाई और विकास के लिए लगातार प्रयास कर रहा है। उनका Castrol सुपर मकैनिक प्रोग्राम पूरे भारत में कार और बाइक मकैनिक भाइयों को उनके कौशल को परखने और उनके काम की समझ और काबिलियत को दर्शा कर राष्ट्रीय स्तर की पहचान बनाने में उनका साथ देता है। पिछले 3 सालों में Castrol ने सारे भारत से 2 लाख से ज़्यादा मकैनिक भाइयों की जबरदस्त भागीदारी देखी – ये उनकी प्रतिभा को तराशने और पहचान पाने की चाह को लेकर उन्हें आश्वस्त करता था।

लेकिन अब, समय बदल गया है। अपने मकैनिक भाइयों का साथ देने की चाह से प्रेरित Castrol Activ और Network18 ने #ProtectIndiasEngine कैंपेन को लॉन्च करने के लिए हाथ मिला लिए हैं। जैसा कि नाम से ही पता लगता है, ये कैंपेन से ज़्यादा रैली का बुलावा है जो मकैनिक भाइयों के लिए हम सबकी चिंता को एक जुट करता है और सबको उनके कैंपेन को समर्थन देने का एक प्लैटफ़ॉर्म देता है। इस मिशन में हमारी मदद करने के लिए हमारे साथ हैं बॉलीवुड के सुपरस्टार आयुष्मान खुराना जो इस कैंपेन को लीड कर रहे हैं। एक नामी यूथ आइकॉन के तौर पर जिन्होंने शोहरत कमाई और कई साल दो पहिया वाहन चलाया। आयुष्मान खुराना ने अपना एक किस्सा साझा करते हुए बताया कि किस तरह मुश्किल समय में मकैनिक भाइयों ने उनकी भी मदद की।

दक्षिण भारत और हिन्दी जगत के जाने-माने अभिनेता - शाइन शेट्टी ,गणेश वेंकटराम और रवि दुबे भी इस कैंपेन से जुड़े और अपना संदेश लोगो तक पहुँचाया।

उनका संदेश आसान है। मकैनिक भाइयों के कई सालों के वक्त-बेवक्त हमारे वाहनों #NonStop प्रोटेक्शन देने के बाद समय है कि हम #ProtectIndiasEngine और हमारे मकैनिक भाइयों के लिए आगे आएँ। हालांकि संकल्प लेने का काम दो-मिनट का आसान काम है, लेकिन इसका असर बड़ा होगा।

Castrol Activ मिलने वाले हर संकल्प के लिए 10 रुपये देगा और कुल राशि 50 लाख रुपये तक होगी। ये पैसा मकैनिक भाइयों को नई तकनीक से जुड़ी ट्रेनिंग देने, प्रतिभा निखारने और शामिल करने के लिए इस्तेमाल किया जाएगा। साथ ही, सुरक्षित कारोबारी शैली और इंडस्ट्री के नए ट्रेंड्स बताने पर भी इस्तेमाल किया जाएगा।

उनकी मदद के संकल्प के लिए ग्राहक सीधे www.protectindiasengine.com/hindi पर जाकर संकल्प बटन दबा सकते हैं इसके अलावा वे  7574-003-002 पर मिस कॉल भी कर सकते हैं। ये मौका है हमारे लिए कुछ कर गुजरने का और #ProtectIndiasEngine। (यह एक भागीदारी पोस्ट है।)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज