Investment: नारायण मूर्ति भी रतन टाटा की राह पर, इस बड़े स्टार्टअप में करेंगे पर्सनल निवेश

कैटमरेन की योजना उड़ान (Udaan) में 80 से 100 करोड़ रुपए का निवेश करने की है

कैटमरेन की योजना उड़ान (Udaan) में 80 से 100 करोड़ रुपए का निवेश करने की है

यूनिकॉर्न (Unicorn) कंपनी उड़ान (Udaan) में निवेश के लिए बातचीत कर रही है कैटमरेन वेंचर्स (Catmaren Ventures ), यह इन्फोसिस के को-फाउंडर नारायण मूर्ति (Narayan Murthy)की निजी निवेश कंपनी है.

  • Share this:
नई दिल्ली. रतन टाटा ( Ratan Tata) की तरह इन्फोसिस (Infosys) के सह-संस्थापक एन आर नारायण मूर्ति (NR Narayana Murthy) की निजी निवेश कंपनी कैटमरेन वेंचर्स (Catmaren Ventures ) स्टार्टअप्स में निवेश कर रही है. कैटमरेन बी2बी ई-कॉमर्स मंच और स्टार्टअप्स से यूनिकॉर्न बनी उड़ान (Udaan) में निवेश के लिए बातचीत कर रही है. सूत्रों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी.

कारोबार जगत के सूत्रों के मुताबिक कैटमरेन की योजना उड़ान में 80 से 100 करोड़ रुपए का निवेश करने की है. यह निवेश सेकेंडरी पाथ का होगा. यानी इसमें कर्मचारियों के शेयरों की खरीद के जरिए निवेश किया जाएगा. सूत्रों ने बताया कि इस बारे में बातचीत अग्रिम चरण में है. यह सौदा अगले कुछ सप्ताह में पूरा होने की उम्मीद है. इस बारे में कैटमरेन वेंचर्स को भेजे गए ई-मेल का जवाब नहीं मिला.

यह भी पढें : नौकरी की बात: वर्क फ्रॉम होम के चलते वेलनेस ऑफिसर या एम्प्लोयी एक्सपीरियंस एंड कम्युनिकेशन जैसी नई जॉब्स की डिमांड

जनवरी में भी कंपनी ने जुटाए थे 2 हजार करोड़ रुपए
उड़ान के प्रवक्ता ने कहा कि कंपनी अटकलों या अपरिपक्व लेनदेन पर टिप्पणी नहीं करती है. जनवरी में उड़ान ने विभिन्न निवेशकों से 28 करोड़ डॉलर या 2,048 करोड़ रुपये जुटाए थे। कंपनी आज की तारीख तक 1.15 अरब डॉलर जुटा चुकी है.

यह भी पढें : इमरान सरकार का यूटर्न, अब भारत से चीनी-कपास का आयात नहीं करेगा पाक, यह है वजह

2012 से स्टार्टअप में इन्वेस्ट कर रहे हैं टाटा



बता दें कि दिसंबर 2012 में रिटायर होने के बाद रतन टाटा ने अभी तक करीब दर्जन भर स्टार्टअप में निवेश किया है. उन्होंने ये सभी इन्वेस्टमेंट अपनी कंपनी आरएनटी एसोसिएट्स के जरिए किया है. अब तक उन्होंने ओला, पेटीएम, स्नैपडील, क्योरफिट, अर्बन लैडर और अवंती फाइनेंस में इन्वेस्ट किया है. यही नहीं अब वे प्रॉफिट बुक करके कुछ स्टार्टअप्स से बाहर भी निकल रहे हैं. हाल ही में लैंसकार्ट से उनके निवेश बाहर निकालने की खबरें भी आई थीं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज