• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • CBTD की दो-तिहाई वर्कफोर्स फेसलेस एसेसमेंट स्कीम के लिए काम करेगी, NeAC की संख्या 34

CBTD की दो-तिहाई वर्कफोर्स फेसलेस एसेसमेंट स्कीम के लिए काम करेगी, NeAC की संख्या 34

केंद्र सरकार ने फेसलेस एसेसमेंट स्कीम के पहले चरण को 7 अक्टूबर 2019 में शुरू किया था.

CBDT ने जानकारी दी है कि दो-तिहाई वर्कफोर्स अब फेसलेस एसेसमेंट स्कीम (Faceless Assesment Scheme) के लिए काम करेगी. नेशनल ई-एसेसमेंट सेंटर (NeAC) की अगुवाई प्रिंसिपल चीफ कमिश्नर कृष्ण मोहन प्रसाद करें. 8 NeAC की संख्या बढ़ाकर 34 कर दी गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
    नई दिल्ली. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) की दो-तिहाई वर्कफोर्स फेसलेस एसेसमेंट स्कीम (Faceless Assessment Scheme) के लिए काम करेगी. एक वरिष्ठ अधिकारी ने न्यूज एजेंसी ANI को बताया कि अब इनकम टैक्स के प्रिंसिपल चीफ कमिश्नर (Principal Chief Commissoner) की अगुवाई वाली नेशनल ई-एसेसमेंट सेंटर (NeAC) के पास 32 कमिश्नर, 96 प्रिंसिपल कमिश्नर, 262 असिस्टेंट व डिप्टी कमिश्नर और 1,274 इनकम टैक्स अधिकारी हैं. केंद्र सरकार ने फेसलेस एसेसमेंट स्कीम के पहले चरण को 7 अक्टूबर 2019 में शुरू किया था.

    टैक्स से जुड़े इन मामलों को फेसलेस एसेसमेंट
    उस दौरान 58,320 मामलों से इस स्कीम की शुरुआत की गई. 13 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने परदर्शी टैक्सेशन के लिए एक प्लेटफॉर्म भी लॉन्च किया. उस दौरान जिन मामलों से इस स्कीम की शुरुआत की गई, उनमें गंभीर फ्रॉड, प्रमुख टैक्स चोरी, संवेदनशील व खोजी मामले, काला धान और बेनामी संपत्ति से जुड़े मामले थे. इसके अलावा इंटरनेशनल टैक्स मामलों को भी इसमें शामिल किया गया था.

    अधिकारी के मुताबिक, रीजनल ई-एसेसमेंट सेंटर (ReAC) को भी 8 से बढ़ाकर 34 कर दिया गया है. पिछले साल नई दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता में एक-एक NeAC था. जब दिल्ली में 3 NeAC है और चेन्नई में ReAC भी है. इसके अलावा मुंबई में 5 ReAC, कोलकाता में 4 और दिल्ली में 3 ReAC भी है.

    यह भी पढ़ें: फ्लाइट में फोटो खींचने को लेकर DGCA का नया आदेश, कुछ शर्तों के साथ मिली इजाजत

    अगस्त में टैक्स चार्टर (Tax Charter) लागू किये जाने के बाद ये नये टैक्स एसेसमेंट खोले गये हैं. विजयवाड़ा, विशाखापटनम, रांची, अहमदाबाद, वड़ोदरा, बेंगलुरु, पणजी, इंदौर, पंचकुला, शिमला, नाशिक, थाणे, जोधपुर, त्रिची, बरेली और देहरादून में भी ReAC खोले गये हैं. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) से मंजूरी लेने के बाद इन सेंटर्स को खोला गया है.

    पिछले साल ही सितंबर महीने में CBDT ने कृष्ण मोहन प्रसाद को प्रिंसिपल चीफ कमिश्नर नियुक्त किया था. प्रसाद 1984 बैच के इंडियन रेवेन्यू सर्विस (IRS) अधिकारी हैं. उस दौरान NeAC के पास 619 अधिकारी थे. इसमें 4 चीफ ​कमिश्नर, 25 प्रिंसिपल कमिश्नर, एक कमिश्नर, 144 एडिशनल कमिश्नर, 163 डिप्टी कमिश्नर और 281 इनकम टैक्स अधिकारी थे.

    यह भी पढ़ें: ठोस कदम नहीं उठाए तो बर्बाद हो जाएगा रिटेल सेक्‍टर! कैट ने सरकारों से की विशेष पैकेज की मांग

    NeAC सेटअप किये जाने के बाद दिल्ली रिव्यू यूनिट बेंगलुरु स्थिति एक मामले का फेसलेस एसेसमेंट किया. अभी तक 7 हजार से ज्यादा मामलों का फेसलेस एसेसमेंट के तहत निपटारा किया जा चुका है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज