टैक्सपेयर्स के लिए खुशखबरी! मोदी सरकार ने इस स्कीम की अंतिम तारीख बढ़ाई

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड

टैक्सपेयर्स के लिए पिछले साल सितंबर माह में शुरू किए गए एक खास योजना की अंतिम तारीख को सरकार ने आगे बढ़ा दिया है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने आयकरदाताओं को जुर्माना देकर अपने कर अपराध का निपटान कराने के अवसर की समयसीमा 31 जनवरी तक बढ़ा दी है. यह अवसर 'एक बार' के लिए है. इससे पहले यह सुविधा 31 दिसंबर 2019 तक खुली थी.

    CBDT ने शुक्रवार को आदेश जारी कर कहा कि भारतीय सनदी लेखाकार संस्थान (ICAI) की क्षेत्रीय शाखाओं और अन्य संगठनों की सलाह पर समयसीमा बढ़ाने का यह निर्णय लिया गया है. CBDT को बताया गया था कि कुछ दिक्कतों के कारण करदाता इस योजना का लाभ नहीं उठा सके हैं.

    CBDT ने कहा है कि ऐसे करदाताओं को फायदा देने तथा अदालतों के समक्ष मुकदमों का बोझ कम करने के लिये कंपाउंडिग (जुमार्ना लेकर जुर्म खत्म करने) की सुविधा की समयसीमा बढ़ाने का फैसला लिया गया है.

    यह भी पढ़ें: भारत के वॉरेन बफे ने अब इस कंपनी में लगाया पैसा, आपके पास भी है कमाने का मौका

    31 दिसंबर तक 1.33 लाख से ज्यादा करदाताओं के आवेदन
    सबका विश्वास योजना में योग्य व्यक्तियों को एकबारगी मौका दिया गया है कि वे अपने उचित कर की घोषणा करें और प्रावधानों के अनुरूप उसका भुगतान करें. मंत्रालय के अनुसार विभिन्न अर्धन्यायिक मंचों, अपीलीय न्यायाधिकरणों और न्यायिक मंचों के तहत सेवाकर और उत्पाद शुल्क के कुल मिलाकर 3.6 लाख करोड़ रुपये की देनदारी वाले 1.83 लाख मामले लंबित हैं. आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया है कि योजना का लाभ उठाने के पात्र इन 1.84 लाख करदाताओं में से 31 दिसंबर 2019 की सुबह तक 1,33,661 करदाताओं ने आवेदन जमा कराए हैं.

    69,550 करोड़ रुपये का टैक्स बकाया
    आवेदन करने वाले इन करदाताओं पर 69,550 करोड़ रुपये का कर बकाया है. योजना के तहत राहत पाने के बाद इन्हें 30,627 करोड़ रुपये का कर भुगतान करना होगा. मंत्रालय का कहना है कि सबका विश्वास योजना को करदाताओं ने अब तक की सबसे फायदे वाली योजना के तौर पर माना है. सरकार ने अब तक ऐसी जितनी भी योजनाओं की घोषणा की, उनमें यह सबसे ज्यादा पसंद की गई. सरकार ने योजना में करदाताओं के बीच भारी रुचि को देखते हुए कहा है कि पात्र करदाता योजना का लाभ उठाने से पीछे नहीं रहेंगे और जल्द से जल्द आवेदन करेंगे ताकि उन्हें तय राहत और माफी का फायदा मिल सके.

    यह भी पढ़ें: नए साल में SBI ने शुरू की नई सुविधा! बिना कैश-कार्ड दुकान पर ऐसे करें पेमेंट

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.