इस बड़ी कंपनी के मालिक सालों से लगा रहे थे सरकार को चूना, अब फंसे CBI की जाल में.. जानें पूरा मामला

किसान इंटरनेशनल ट्रेडिंग FZE इफको की सब्सिडियरी कंपनी है.

किसान इंटरनेशनल ट्रेडिंग FZE इफको की सब्सिडियरी कंपनी है.

आरोप है कि वे विदेश से महंगे दामों पर फर्टिलाइजर्स आयात करते थे और सरकार से उसपर ज्यादा सब्सिडी लेते थे. इसके साथ ही सप्लायर से इन कंपनियों के अधिकारी अपना कमीशन लेते थे.

  • Share this:

नई दिल्ली. CBI ने फार्मर्स कोऑपरेटिव IFFCO के मैनेजिंग डायरेक्टर और CEO यूएस अवस्थी और इंडियन पोटाश लिमिटेड (Indian Potash) के मैनेजिंग डायरेक्टर परविंदर सिंह गहलोत, उनके बेटे सहित कुछ अन्य लोगों के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला दर्ज किया है. एजेंसी के अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि फर्टिलाइजर के आयात और सब्सिडी क्लेम करने में गड़बड़ी करने की वजह से ये केस दर्ज किए गए हैं. इन अधिकारियों के खिलाफ केस दर्ज करने के बाद CBI ने अवस्थी और गहलोत के दिल्ली, मुंबई और गुड़गांव सहित 12 ठिकानों पर छापेमारी की है.

अधिकारियों ने बताया कि जांच के दौरान अवस्थी के घर से 8.80 लाख कैश और गहलोत और उनके परिवार के सदस्यों के नाम पर 5.76 करोड़ रुपए की FD मिली है. CBI को गहलोत के घर से 14 बैंक खातों और 19 प्रॉपर्टी के डिटेल मिले हैं. गहलोत की ये प्रॉपर्टी मुंबई, हिमाचल प्रदेश, दिल्ली और हरियाणा में है.

महंगे दामों पर फर्टिलाइजर्स आयात करते थे

CBI की तरफ से दायर केस में अवस्थी और गहलोत पर आरोप लगाया गया है कि वे विदेश से महंगे दामों पर फर्टिलाइजर्स आयात करते थे और सरकार से उसपर ज्यादा सब्सिडी लेते थे. इसके साथ ही सप्लायर से इन कंपनियों के अधिकारी अपना कमीशन लेते थे. ये फर्टीलाइजर्स किसानों को वाजिब दाम पर बेचा जाता है और कंपनियों को सरकार की तरफ से सब्सिडी लेती हैं. CBI के प्रवक्ता आरसी जोशी ने एक बयान जारी कर बताया है कि ज्यादा सब्सिडी क्लेम करके सरकार को धोखा देने और किसान इंटरनेशनल ट्रेडिंग FZE के जरिए महंगे भाव पर फर्टिलाइजर्स आयात करने का आरोप है.
ये भी पढ़ें- मोदी सरकार दे रही मोटी कमाई का मौका! आप भी इस तरह से शुरू कर सकते हैं ये कारोबार, यहां करें आवेदन

प्रमोटर के खिलाफ भी केस दर्ज किया गया

किसान इंटरनेशनल ट्रेडिंग FZE इफको की सब्सिडियरी कंपनी है.ये कंपनियां जिन सप्लायर्स से महंगे भाव पर फर्टिलाइजर्स खरीदती थी उनसे वो लोग कमीशन भी लेते थे. एजेंसी ने कैटालिस्ट बिजनेस एसोसिएट के प्रमोटर और अवस्थी के बेटे अमोल और कैटालिस्ट बिजनेस सॉल्यूशंस के प्रमोटर अनुपम के खिलाफ भी केस दर्ज किया है.एजेंसी ने पंकज जैन, सुशील कुमार पचीसिया और इफको को कुछ डायरेक्टर्स के खिलाफ भी केस दर्ज किया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज