सरकारी बैंक ने दिया ग्राहकों को तोहफा! सस्ता किया होम ऑटो पर्सनल लोन, हर महीने होगी EMI पर बचत

सरकारी बैंक सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (Central Bank of India) ने ग्राहकों को बड़ा तोहफा दिया है. बैंक ने कर्ज़ की प्रमुख दरें घटा दी है. नई दरें आज से लागू हो गई है.

सरकारी बैंक सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (Central Bank of India) ने ग्राहकों को बड़ा तोहफा दिया है. बैंक ने कर्ज़ की प्रमुख दरें घटा दी है. नई दरें आज से लागू हो गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
    नई दिल्ली. सरकारी बैंक सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (Central Bank of India) ने प्रमुख कर्ज़ मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड बेस्ड लेंडिंग रेट (MCLR) की दरें 0.05 फीसदी तक घटा दी है. यह कमी सभी अवधि के कर्ज के लिए की गई है. नई दरें मंगलवार यानी 15 सितंबर से लागू हो गई. बैंक की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि उसने एक साल अवधि वाले कर्ज के लिए MCLR 7.15 फीसदी से कम कर 7.10 फीसदी कर दी है.इसी तरह एक दिन और एक महीने अवधि वाले कर्ज के​ लिए MCLR कम होकर अब 6.55 फीसदी हो गयी है, जो पहले 6.60 फीसदी थी. बैंक ने तीन महीने और छह महीने की अवधि के कर्ज पर भी MCLR कम की है. इन अवधियों के लिए अब कर्ज दर क्रमश: 6.85 फीसदी और 7 फीसदी होगी.

    ये 4 बैंक भी कर चुके हैं कटोती
    इससे पहले पिछले सप्ताह यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, इंडियन ओवरसीज बैंक और बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने भी MCLR में क्रमश: 0.05 फीसदी, 0.10 फीसदी और 0.10 फीसदी की कटौती की थी. यूको बैंक ने भी MCLR में 0.05 फीसदी की कटौती की है. यूनियन बैंक ऑफ इंडिया और इंडियन ओवरसीज बैंक की कटौती सभी कर्ज अवधियों के लिए थी. इंडियन ओवरसीज बैंक की नई दरें 10 सितंबर से प्रभावी हो चुकी हैं. इंडियन ओवरसीज बैंक में एक साल के कर्ज की MCLR 7.55 फीसदी (पहले 7.65 फीसदी), तीन माह और छह माह की अवधि के कर्ज पर MCLR घट कर क्रमश: 7.45 फीसदी और 7.55 हो गई है.

    ये भी पढ़ें : इन 6 सरकारी कंपनियों को बंद कर रही है सरकार, लोकसभा में अनुराग ठाकुर ने दी पूरी जानकारी

    कटौती के बाद यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में एक साल की अवधि वाले कर्ज पर MCLR 7.20 फीसदी हो गई है, जो पहले 7.25 फीसदी थी. वहीं बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने चुनिंदा कर्ज अवधियों पर MCLR घटाई है. बैंक ऑफ महाराष्ट्र की ओर से जारी बयान के अनुसार, बैंक ने एक साल और छह माह के कर्ज पर MCLR क्रमश: 7.40 फीसदी से घटाकर 7.30 फीसदी और 7.30 फीसदी से 7.25 फीसदी कर दी है. एक दिन, एक माह और तीन माह के कर्ज के लिए MCLR संशोधित कर क्रमश: 6.80 फीसदी, 7 फीसदी और 7.20 फीसदी की गई है.

    यूको बैंक ने एक बयान में कहा कि कटौती के बाद एक साल की MCLR 7.40 फीसदी से घटकर 7.35 फीसदी हो गई है. यह कटौती अन्य सभी अवधि के कर्ज पर भी समान रूप से लागू होगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.