सरकार की नई योजना, किडनी मरीजों का घर पर होगा मुफ्त इलाज

डायलिसिस कराने वाले मरीजों को अब हर दूसरे दिन डायलिसिस सेंटर नहीं जाना होगा. सरकार मरीजों के लिए घर पर ही डायलिसिस कराने की व्यवस्था करने जा रही है.

News18Hindi
Updated: May 15, 2019, 1:30 PM IST
News18Hindi
Updated: May 15, 2019, 1:30 PM IST
डायलिसिस कराने वाले मरीजों को अब हर दूसरे दिन डायलिसिस सेंटर नहीं जाना होगा. सरकार मरीजों के लिए घर पर ही डायलिसिस कराने की व्यवस्था करने जा रही है. इसके लिए हीमो-डायलिसिस की जगह पेरिटोनियल डायलिसिस की जाएगी. इसके तहत मरीजों को एक पेरिटोनियल किट दी जाएगी और कुछ दवाएं दी जाएगी जिसके बाद वो घर बैठे ही डायलिसिस कर पाएंगे. ये सेवाएं अगले 2 से 3 माह में शुरू की जा सकती हैं. (ये भी पढ़ें: शुरू करें यह बिज़नेस, हर महीने 1.65 लाख तक हो सकती है कमाई)

इनको मुफ्त मिलेगी सुविधा


आर्थिक रूप कमजोर वर्ग के मरीजों को किट और दवा मुफ्त मिलेगी. दूसरे मरीजों के लिए रियासती दरों पर सरकार की तरफ ये सुविधा मुहैया कराई जाएगी. प्रधानमंत्री डायलिसिस प्रोग्राम के तहत ही इस योजना का विस्तार किया जा रहा है. ऐसी उम्मीद की जा रही है कि आने वाले 2 से 3 महीने में इसकी शुरुआत की जा सकती है.

जानकारी के मुताबिक, देश में हर साल सवा दो लाख से अधिक ऐसे मरीज हैं जिनका डायलिसिस की जरूरत पड़ती है. यही वजह है कि दो साल पहले सरकार ने प्रधानमंत्री डायलिसिस प्रोग्राम की शुरुआत की थी जिसके देश भर में अब तक757 डायलिसिस सेंटर स्थापित किए जा चुके हैं. राष्ट्रीय डायलिसिस कार्यक्रम के तहत सभी राज्यों में ये योजना लागू होगी.

ये भी पढ़ें: सावधान! अगर यूज नहीं कर रहे हैं आधार तो हो जाएगा डीएक्टिवेट

आसान है यह प्रक्रिया, 24 घंटे में 3 बार करनी होगी
इस प्रक्रिया में मरीज के पेट में कैथेटर ट्यूब फिक्स कर बाहर निकाली जाती है. ट्यूब से पेरिटोनियम डायलिसिस फ्लूड डाला जाता है. इसकी मात्रा दो लीटर होती है. यह शरीर के अंदर 30 से 40 मिनट रहता है. पेट में लगे ट्यूब से एक और कैथेटर जोड़ा जाता है, इसी ट्यूब के सहारे खून के अपशिष्ट पदार्थ बाहर आ जाते हैं. ये सुविधा नेफ्रोलॉजिस्ट या फिजिशियन की सलाह पर मिलेगी. इससे सरकार के रकम और संसाधन दोनों बचेंगे.(प्रतीक श्रीवास्तव, संवाददाता- CNBC आवाज़)

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

News18 चुनाव टूलबार

चुनाव टूलबार