बड़ी राहत: 30 करोड़ लोगों के खाते में सरकार ने ट्रांसफर किए 28,256 करोड़ रुपये, इन्हें मिला लाभ

ईपीएफ योगदान कम होने के बाद कर्मचारियों की टेक होम सैलरी बढ़ जाएगी.
ईपीएफ योगदान कम होने के बाद कर्मचारियों की टेक होम सैलरी बढ़ जाएगी.

वित्त मंत्रालय (Ministry of Finance) ने शनिवार को जानकारी दी कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (PMGKY) के तहत 30 करोड़ लोगों को डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (DBT) के तौर पर 28,256 करोड़ रुपये भेजे जा चुके हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 11, 2020, 10:49 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. करोना वायरस महामारी के बीच प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (PMGKY) के तहत 30 करोड़ गरीब लोगों को कुल 28,256 करोड़ रुपये दिये गए हैं. वित्त मंत्रालय (Ministry of Finance) ने आज इस बारे में जानकारी दी. 21 दिन के लॉकडाउन के बीच केंद्र सरकार ने 1.7 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज का ऐलान किया था.

केंद्र सरकार द्वारा ऐलान किये गए इस राहत पैकेज (Relief Package) में गरीब परिवारों को अनाज और गरीब महिलाओं व वरिष्ठ नागरिकों को कैश ट्रांसफर (Direct benefit Transfer) करने की घोषणा की गई थी. सरकार ने यह ऐलान किया था ताकि लॉकडाउन (Lockdown In India) के बीच गरीब परिवारों को राहत मिल सके.

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार की खास बीमा स्कीम! 342 रुपये में मिलेगा​ ट्रिपल इंश्योरेंस कवर



मंत्रालय ने ट्वीट कर दी जानकारी
वित्त मंत्रालय ने एक ट्वीट में कहा, 'प्रधाानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत 30 करोड़ लाभार्थियों को डायरेक्ट ​बेनिफिट ट्रांसफर के तौर पर 28,256 करोड़ रुपये जारी किए जा चुके हैं.'



PM-KISAN स्कीम के तहत भेजी गई पहली किस्त
इस कुल रकम में 13,855 करोड़ रुपये पीएम-किसान योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojna) के तहत पहले इन्स्टॉलमेंट के तौर पर जारी किया गया है. इसके तहत कुल 8 करोड़ किसान लाभार्थियों में से 6.93 करोड़ किसानों के खाते में 2,000 रुपये की पहल किस्त भेजी जा चुकी है.

यह भी पढ़ें: 1.37 लाख लोगों के खाते में पहुंचे ₹280 करोड़, EPFO ने प्रोसेस किये क्लेम्स

महिलाओं और वरिष्ठ नागरिकों को कैश ट्रांसफर
वहीं, 19.86 करोड़ महिला जन धन अकाउंट (Jan Dhan Account) होल्डर्स को भी 500 रुपये की राशि ट्रांसफर की जा चुकी है. केंद्र सरकार ने अब तक इस पर 9,930 करोड़ रुपये खर्च किया है. नेशनल सोशल ​असिस्टेंस प्रोग्राम (NSAP) के तहत कुल 2.82 करोड़ लोगों को 1,400 करोड़ रुपये रुपये ट्रांसफर किये जा चुके हैं. इसमें वरिष्ठ नागरिक, विधवा महिलायें और विकलांग लोग शामिल हैं. इन प्रत्येक लाभार्थियों को सरकार ने अनुग्रह राशि के तौर पर उनके खाते में 1,000 रुपये ट्रांसफर किया है.

कन्स्ट्रक्शन वर्कर्स को भी कैश ट्रांसफर
2.16 करोड़ कन्स्ट्रक्शन वर्कस को बिल्डिंग एंड कन्स्ट्रक्शन वर्कर्स फंड की तरफ से 3,066 करोड़ रुपये जारी किये जा चुके हैं. इस वर्कर्स फंड का प्रबंधन राज्य सरकारें करती हैं. अप्रैल से जून महीने के​ लिए केंद्र सरकार प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत 1.20 करोड़ मिट्रिक टन अनाज प्रोसेस कर रही है. इस योजना के तहत 80 करोड़ लोगों को मुफ्त में 5 किलो प्रति माह अनाज मिलेगा. अभी तक 2 करोड़ लाभार्थियों को मुफ्त राशन मिल चुका है.

यह भी पढ़ें:  EMI के नाम पर खाली हो सकता है बैंक अकाउंट, बचने के लिए करें ये 7 काम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज