मोदी सरकार का बड़ा फैसला- लगाया सभी नई सरकारी स्कीम पर ब्रेक

मोदी सरकार का बड़ा फैसला- लगाया सभी नई सरकारी स्कीम पर ब्रेक
वित्त मंत्रालय का बड़ा फैसला

अगले साल मार्च तक कोई भी नई सरकारी स्कीम (Government Scheme) शुरू नहीं होगी. हालांकि ये रोक प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (Prime Minister's Garib Kalyan Yojana) और आत्मनिर्भर भारत से जुड़ी योजनाओं पर लागू नहीं होगी.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्ली. कोरोना के इस संकट (Coronavirus Pandemic)  में सरकार (Government of India) ने अगले साल मार्च तक कोई भी नई सरकारी स्कीम (Government Scheme) शुरू नहीं करने का फैसला किया है. हालांकि ये रोक प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (Prime Minister's Garib Kalyan Yojana) और आत्मनिर्भर भारत से जुड़ी योजनाओं पर लागू नहीं होगी.

नई सरकारी स्कीम (Government Scheme) नहीं लाने का फैसला किया है. वित्त मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि कोरोना की वजह से जारी आर्थिक संकट में खर्चों की कटौती (Government of India Cost Cutting Measures) के तहत यह फैसला लिया गया है.हालांकि, आत्मनिर्भर भारत (Atmanirbhar Bharat Policy ) बनाने के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (Prime Minister's Garib Kalyan Yojana) के तहत की गई घोषणाओं के लिए खर्च जारी रहेगा.

सरकार का बड़ा फैसला-कोविड 19 संकट और लॉक डाउन के बीच केंद्र सरकार का बड़ा फैसला लिया है. आदेश के मुताबिक मार्च 2021 तक कोई भी नई स्कीम शुरू नहीं होगी. आदेश FY20-21 में स्वीकृत या मूल्यांकन वाली सभी स्कीम पर लागू. एक्पेंडिचर डिपार्टमेंट से मिले सैद्धांतिक अनुमति वाली स्कीम भी शामिल है. इसमें SFC के 500 करोड़ से उपर की नई स्कीम पर भी ब्रेक लगा रहेगा. वित्त मंत्रालय ने राजस्व की कमी का हवाला देते हुए आदेश जारी किया है. वित्त मंत्रालय के एक्पेंडिचर डिपार्टमेंट ने ये आदेश 4 जून को जारी किया है. मंत्रालयों और विभागों को अपनी-अपनी लिस्ट 30 जून तक सौंपने को कहा है.



सरकार कर चुकी 20 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज का ऐलान-  देश का आत्मनिर्भर बनाने के लिए केंद्र सरकार ने आर्थिक सुधारों के साथ-साथ कुल 20 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज का ऐलान किया है. इस पर पीएम मोदी की ओर से लिख पत्र में कहा गया है कि भारत कोरोना महामारी से जूझ रहे विश्व के सामने इकोनॉमी रिवाइवल का एक उदाहरण पेश करेगा.



ये भी पढ़ें-होटल में जाने से पहले भरना होगा फॉर्म, एंट्री से एग्जिट तक न भूलें ये 7 बातें

आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत घोषित 20 लाख करोड़ का पैकेज भारत के हर नागरिक चाहे वो किसान हो, छोटा उद्योमी हो या किसी स्टार्टअप से जुड़ा युवा हो, उसके समक्ष नए अवसरों के युग की शुरुआत करेगा.

पत्र में पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया भर में इस मुद्दे पर व्यापक चर्चा हो रही है कि इस महामारी के चपेट से तमाम देशों की अर्थव्यवस्थाएं कैसे उबरेगी. कोरोना के बाद अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाना सबसे बड़ी चुनौती बन गई है.

ये भी पढ़ें-CBI की चेतावनी! कोरोना लॉकडाउन में हैकर्स ऐसे चुरा रहे हैं आपके बैंक डिटेल

(आलोक प्रियदर्शी, CNBC आवाज़)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading