Railway का बड़ा ऐलान! इस शर्त पर यात्रियों को फ्री में मिलेगा खाना

भारतीय रेल से रोजाना लाखों लोग सफर करते हैं. ट्रेनों और रेलवे स्टेशनों पर साफ-सफाई रखने के अलावा वहां सामान बेचने वालों पर नकेल कसने का फैसला किया है.

News18Hindi
Updated: July 21, 2019, 1:32 PM IST
Railway का बड़ा ऐलान! इस शर्त पर यात्रियों को फ्री में मिलेगा खाना
ट्रेन और स्‍टेशनों पर सामान बेचने वालों पर नकेल कसने का फैसला किया
News18Hindi
Updated: July 21, 2019, 1:32 PM IST
भारतीय रेल से रोजाना लाखों लोग सफर करते हैं. ट्रेनों और रेलवे स्टेशनों पर साफ-सफाई रखने के अलावा यहां सामान बेचने वालों पर नकेल कसने का फैसला किया है. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें उन्‍होंने कहा कि अगर कोई सामान बेचने वाला आपको बिल नहीं देता है, तो उसके पैसे देने की भी जरूरत नहीं है. वो सामान आपके लिए फ्री होगा.

'नो बिल, नो पेमेंट' लागू
ट्रेन में सफर करने वाले लाखों लोगों के लिए रेल मंत्रालय द्वारा लिया गया, ये एक बड़ा फैसला किया है. रेलवे ने 'नो बिल, नो पेमेंट' की नीति गुरुवार को पूरी तरह से सभी स्टेशनों और ट्रेनों में लागू कर दी है. इसके तहत स्टेशन या ट्रेन में सामान बेचने वाला कोई वेंडर आपको बिल नहीं देता है, तो खरीदा गया सामान पूरी तरह मुफ्त होगा. इससे सही दाम पर यात्रियों को सामान मिलेगा और भ्रष्‍टाचार पर लगाम लगेगी. अगर सख्‍ती से लागू होता है, तो मोदी सरकार का ये कदम काबिले तारीफ है.

ये भी पढ़ें: नहीं म‍िल रही नौकरी? मुद्रा योजना से ऐसे शुरू करें ब‍िजनेस

पीयूष गोयल ने इस योजना को अच्‍छी तरह से समझाने के लिए एक वीडियो भी अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर किया है. रेल मंत्री ने लिखा कि रेलवे द्वारा No Bill, No Payment की नीति अपनाते हुए विक्रेताओं द्वारा ग्राहकों को बिल देना अनिवार्य किया गया है. ट्रेन अथवा रेलवे प्‍लेटफॉर्म पर यदि कोई विक्रेता आपको बिल देने से इंकार करता है तो आपको उसे पैसे देने की आवश्यकता नहीं है.

ये भी पढ़ें: बैंक से साल में लिमिट से ज्यादा कैश निकालने पर लगेगा टैक्स!

इस वजह से चलता रहता है ये खेल
Loading...

लोगों को पता ही नहीं होता है कि वे जिन चीजों को खरीद रहे हैं, उसका असल में दाम कितना है. आपने कभी न कभी ट्रेन में सफर जरूर किया होगा. इस दौरान आपने चाय भी पी होगी. इस एक कम चाय की कीमत वेंडर आमतौर पर 10 रुपये वसूलते हैं. हालांकि, इसकी असली कीमत 7 रुपये है. लोगों की जानकारी नहीं होती और वेंडर भी यात्रियों को बिल नहीं देता, इसलिए ये खेल चलता रहता है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 21, 2019, 12:22 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...