Home /News /business /

डिजिटल ट्रांजेक्‍शन के नाम पर धोखा! सरकारी बैंकों ने आपके खाते से कमाए 10 हजार करोड़

डिजिटल ट्रांजेक्‍शन के नाम पर धोखा! सरकारी बैंकों ने आपके खाते से कमाए 10 हजार करोड़

डिजिटल ट्रांजेक्‍शन पर लग रहा चार्ज

डिजिटल ट्रांजेक्‍शन पर लग रहा चार्ज

संसद में बैंकों से जुड़ा आंकड़ा पेश करते हुए बताया गया कि सरकारी बैंकों ने डिजिटल ट्रांजेक्शन चार्जेज़ के नाम पर अब तक 10 हजार करोड़ बटोर लिए हैं. वहीं प्राइवेट बैंकों का आकड़ा इससे कई गुना होने का अनुमान लगाया जा रहा है.

    क्‍या आपको पता है डिजिटल ट्रांजेक्‍शन के नाम पर सरकारी बैंक आपको धोखा दे रहे हैं. संसद में जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक सरकारी बैंकों ने नोटबंदी के बाद से अब तक डिजिटल ट्रांजेक्‍शन के नाम पर आपकी जेब से 10 हजार करोड़ रुपये इकट्ठा किए हैं. यह रकम हर ट्रांजेक्‍शन पर लगने वाले चार्ज और सेविंग अकाउंट में न्‍यूनतम बैलेंस न रखने वालों के जरिए वसूले गए हैं.

    संसद में डिजिटल ट्रांजेक्‍शन पर पूछे गए एक सवाल का जवाब देते हुए सरकार ने बताया कि साल 2012 में एवरेज बैलेंस पर एसबीआई चार्ज वसूल रहा था, लेकिन 31 मार्च 2016 को इसे बंद कर दिया गया. हालांकि प्राइवेट बैंकों ने इसके वाबजूद अपने नियमों में कोई बदलाव नहीं किया था. बाद में एक अप्रैल 2017 को एसबीआई ने भी हर ट्रांजेक्‍शन पर अतिरिक्‍त चार्ज वसूलना शुरू कर दिया. हालांकि मिनिमम बैलेंस की रकम को जरूर कम कर दिया गया.

    इसे भी पढ़ें :- देश का सबसे ज्यादा बिकने वाला साबुन हुआ महंगा, इन रोजमर्रा की चीजों के भी बढ़े दाम

    संसद में बैंकों से जुड़ा आंकड़ा पेश करते हुए बताया गया कि सरकारी बैंकों ने डिजिटल ट्रांजेक्शन चार्जेज़ के नाम पर अब तक 10 हजार करोड़ बटोर लिए हैं. संसद में पेश आंकड़ों में प्राइवेट बैंकों के बारे में कुछ भी बताया नहीं गया है. अनुमान लगाया जा रहा है कि प्राइवेट बैंकों का आकड़ा इससे कई गुना तक हो सकता है. वित्त मंत्रालय की ओर से जानकारी दी गई है कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने बैंकों को उनके बोर्ड के मुताबिक विभिन्न सेवाओं पर चार्ज करने की अनुमति प्रदान कर रखी है.

    इसे भी पढ़ें :- सरकार की चेतावनी! अब मेडिकल स्टोर्स पर सीधे दवा बेचना गैरकानूनी

    Tags: ATM transactions, Banking services, Digital Transaction in India, Narendra modi, Pm narendra modi, RBI, Sbi, SBI Bank, SBI has slashed charges

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर