लाइव टीवी

बड़ी खबर! दुनिया की दो सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में थमी ट्रेड वॉर! भारत पर होगा बड़ा असर

News18Hindi
Updated: October 15, 2019, 3:28 PM IST
बड़ी खबर! दुनिया की दो सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में थमी ट्रेड वॉर! भारत पर होगा बड़ा असर
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, चीन ने अमेरिका के साथ ट्रेड वॉर से संबंधित डील पर साइन कर दिए है.

दुनिया की दो सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं अमेरिका (World Largest Economy US and China) और चीन के बीच जारी नए जमाने की जंग ट्रेड वॉर (Trade War) थम गई है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, चीन ने अमेरिका के साथ ट्रेड वॉर से संबंधित डील पर साइन कर दिए है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 15, 2019, 3:28 PM IST
  • Share this:
मुंबई. दुनिया की दो सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाएं (World Largest Economy) अमेरिका और चीन (USA-China) एक दूसरे के खिलाफ नए जमाने की जंग लड़ रहे हैं. अगर आसान शब्दों में कहें तो अमेरिका और चीन अपने कारोबारी हितों को पूरा करने के लिए 'ट्रेड वॉर' (Trade War) कर रहे हैं, लेकिन कई मीडिया रिपोर्ट्स में अब इसके थमने की उम्मीद लगाई जा रही है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, चीन ने अमेरिका के साथ ट्रेड वॉर से संबंधित डील (Trade War) पर साइन कर दिए है. एक्सपर्ट्स का कहना है कि ट्रेड वॉर रुकने से भारत समेत दुनियाभर के देशों की सबसे बड़ी टेंशन दूर हो जाएगी. क्योंकि ग्लोबल ग्रोथ के नीचे जाने में ट्रेड वॉर को ही सबसे ज्यादा जिम्मेदार बताया जा रहा है.  ऐसे में भारत भी अपने सामानों को आसानी से अन्य देशों में एक्सपोर्ट कर पाएगा. लिहाजा एक्सपोर्ट बढ़ने से अर्थव्यवस्था को सहारा मिलेगा. हालांकि इस ट्रेड वॉर के दौर में भारत और चीन के बीच तेजी से कारोबार बढ़ा है.

डील पर हुए हस्ताक्षर- मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि चीन और अमेरिका के बीच पहले चरण की डील पर सहमति बन गई है. चीन ने इस पर हस्ताक्षर भी कर दिए है. हालांकि, अभी तक किसी भी देश ने कोई भी बयान जारी नहीं किया है.

ये भी पढ़ें-देश की सबसे बड़ी लोन देने वाली कंपनी का दिवाली तोहफा, इतनी कम हुई आपकी EMI



एप्पल समेत दुनिया की बड़ी कंपनियों की मिलेगी राहत- दोनों देशों के बीच ट्रेड वॉर थमने की उम्मीद से  निवेशकों और कई कंपनियो को राहत मिली है. क्योंकि अब ये कंपनियां अन्य देशों के साथ आसानी से कारोबार कर पाएंगी. आपको बता दें कि आइफोन बनाने वाली अमेरिकी कंपनी एप्पल ट्रेड वॉर को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का कई बार विरोध कर चुकी हैं, क्योंकि पिछले एक साल के दौरान एप्पल की सेल्स में भारी गिरावट आई है.

>> दुनिया की बड़ी ब्रोकरेज फर्म डीबीएस के मुख्य अर्थशात्री तैमूर बेग ने अपनी हालिया रिपोर्ट में कहा है कि ट्रेड वॉर के कारण अमेरिका और चीन देशों को इस साल अपनी जीडीपी का 0.25 फीसदी गंवाना पड़ सकता है.

>> अगले साल मामला और बिगड़ सकता है और दोनों देशों की विकास दर 0.5 फीसदी तक कम हो सकती है.
Loading...

>> बेग कहते हैं, चीन की विकास दर 6-7 फीसदी है और अमरीका की 2-3 फीसदी, तो ऐसे में चीन की तुलना में अधिक नुक़सान अमरीका का होगा.

>> सप्लाई चेन पर असर पड़ने का प्रभाव दक्षिण कोरिया, सिंगापुर और ताइवान पर भी पड़ सकता है. चीन बड़ी मात्रा में ऐसे उपकरणों का निर्यात करता है

>> जिनका इस्तेमाल दूसरे देश नए उत्पाद तैयार करने में करते हैं. चीन के एक्सपोर्ट पर थोड़ा भी फर्क पड़ा तो दूसरे देशों के लिए इसके बड़े परिणाम होंगे.

ये भी पढ़ें-पाकिस्तान की हालत बहुत खराब, कभी भी डूब सकती है अर्थव्यवस्था: वर्ल्ड बैंक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अमेरिका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 15, 2019, 2:56 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...