अपना शहर चुनें

States

पूरी दुनिया की इकॉनमी को बर्बाद करने के बाद, लेकिन China की अर्थव्यवस्था में आ रहा है सुधार, जानिए कैसे

पूरी दुनिया की इकॉनमी को बर्बाद करने के बाद, चीन की Economy में आ रहा सुधार
पूरी दुनिया की इकॉनमी को बर्बाद करने के बाद, चीन की Economy में आ रहा सुधार

कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के कारण लागू लॉकडाउन (Lockdown) को हटाने और काराखानों तथा दुकानों को फिर से खोलने के बाद चीन की अर्थव्यवस्था 3.2 प्रतिशत की दर से बढ़ी है.

  • Share this:
बीजिंग. कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के कारण लागू लॉकडाउन (Lockdown) को हटाने और काराखानों तथा दुकानों को फिर से खोलने के बाद चीन की अर्थव्यवस्था 3.2 प्रतिशत की दर से बढ़ी है. चीन द्वारा गुरुवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक आर्थिक वृद्धि में आश्यर्यजनक रूप से सुधार हुआ है, जबकि इससे पिछली तिमाही में अर्थव्यवस्था की रफ्तार 6.8 प्रतिशत की दर से घटी थी. कोरोना वायरस महामारी की शुरुआत दिसंबर में चीन से हुई थी.

ये भी पढ़ें:-  घर बैठे SBI में ऐसे एक्टिवेट करें नेट बैंकिंग! मिनटों में होंगे सभी जरूरी काम

वहां सबसे पहले अर्थव्यवस्था को बंद किया गया और इसे खोलने की शुरुआत भी मार्च में सबसे पहले वहीं हुई. ताजा आंकड़ों के मुताबिक विनिर्माण और कुछ दूसरे उद्योगों में कामकाज लगभग सामान्य स्थिति में वापस आ गया है, लेकिन बेरोजगारी की आशंका के चलते उपभोक्ता खर्च कमजोर है. चीन में सिनेमा और कुछ अन्य व्यवसाय अभी भी बंद हैं और यात्रा पर प्रतिबंध लगा हुआ है.



ये भी पढ़ें:- 100 रुपये हुई एक किलो टमाटर की कीमत! सरकार ने बताया क्यों बढ़ रहे है दाम
भारत और चीन के बीच घटा द्विपक्षीय व्यापार
भारत-चीन सीमा विवाद (India-China Battle) के बाद चीन के खिलाफ पूरा देश एकजुट हो गया है. पूरे देश में चीनी कंपनियों और चीनी प्रोडक्ट का लगातार बहिष्कार हो रहा है. भारत और चीन के बीच द्विपक्षीय व्यापार 2019-20 में घटकर 81.87 अरब डॉलर रह गया, जो 2018-19 में 87.08 अरब डॉलर था. दोनों देशों के बीच व्यापार अंतर भी 53.57 अरब डॉलर से घटकर 48.66 अरब डॉलर रह गया. आंकड़ों के मुताबिक, चीन 2013-14 से 2017-18 तक भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार था. चीन से पहले, यूएई देश का सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार था.

(भाषा के इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज