भारत के कुल बजट से 1.72 लाख करोड़ रुपये ज्‍यादा शिक्षा पर ही खर्च कर चुका है चीन

चीन और अमेरिका शिक्षा, रक्षा व स्‍वास्‍थ्‍य क्षेत्र पर भारत से कहीं ज्‍यादा खर्च करते हैं.
चीन और अमेरिका शिक्षा, रक्षा व स्‍वास्‍थ्‍य क्षेत्र पर भारत से कहीं ज्‍यादा खर्च करते हैं.

वित्‍त वर्ष 2019-20 के बजट में भारत सरकार ने रक्षा (Defense Budget) के लिए 3,05,296 करोड़ रुपये का प्रावधान किया था. वहीं, चीन (China) का रक्षा बजट 12.61 लाख करोड़ है. अमेरिका (US) का रक्षा बजट हमारे कुल बजट का करीब दोगुना है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 31, 2020, 7:53 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) के लिए आर्थिक सुस्‍ती और आम लोगों की राहत को लेकर भारी-भरकम उम्‍मीदों के बीच बजट 2020 (Budget 2020) पेश करना किसी चुनौती से कम नहीं है. वह शनिवार को मोदी सरकार 2.0 का दूसरा बजट पेश करेंगी. बजट 2019-20 के लिए 27.86 लाख करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया था, जो 2018-19 के मुकाबले 13 फीसदी ज्‍यादा था. वहीं, चीन (China) अक्‍टूबर, 2019 तक शिक्षा (Education) पर 29.58 लाख करोड़ रुपये खर्च कर चुका है. चीन की सिर्फ शिक्षा पर खर्च की गई रकम भारत के कुल बजट से 1.72 लाख करोड़ रुपये ज्‍यादा है.

अमेरिका का रक्षा बजट भारत के कुल बजट से करीब दोगुना
वित्‍त वर्ष 2019-20 में भारत का शिक्षा बजट (Education Budget) 94,854 करोड़ रुपये था, जबकि अमेरिका (US) का शिक्षा बजट 4.56 लाख करोड़ रुपये है. दूसरे शब्‍दों में कहें तो अमेरिका भारत के मुकाबले शिक्षा पर करीब 4 ज्‍यादा खर्च कर रहा है. रक्षा के मामले में भी चीन और अमेरिका भारत के मुकाबले बहुत आगे हैं. वर्ष 2018-19 में हमारा रक्षा बजट (Defence Budget) 4,31,011 करोड़ रुपये था. इसमें 3,05,296 करोड़ रुपये तीनों सेनाओं के लिए थे. वहीं, अमेरिका का रक्षा बजट 2019-20 में 51.21 लाख करोड़ रुपये का था. दूसरे शब्‍दों में कहें तो अमेरिका का रक्षा खर्च ही हमारे कुल बजट का करीब दोगुना है.

अमेरिका का रक्षा खर्च भारत के कुल बजट का करीब दोगुना है.

पाकिस्‍तान का रक्षा बजट 53,164 करोड़ रुपये था


चीन का रक्षा बजट भी 12.61 लाख करोड़ रुपये है. यानी चीन हमारे कुल बजट की आधी से थोड़ी कम राशि ही रक्षा पर खर्च करता है. भारत के मुकाबले अमेरिका रक्षा पर 17 गुना और चीन 4 गुना खर्च करता है. भारत का रक्षा बजट 2019-20 में कुल 3,05,296 करोड़ रुपये था. वहीं, पाकिस्तान (Pakistan) ने 2019-20 के बजट में रक्षा के लिए भारतीय मुद्रा (Indian Currency) के हिसाब से 53,164 करोड़ और बांग्लादेश (Bangladesh) ने 27,340 करोड़ रुपए रखे थे.

पिछले बजट में भारत सरकार ने देश की 130 करोड़ से ज्‍यादा की आबादी के स्वास्थ्य के लिए 64,999 करोड़ रुपये का आवंटन किया था.


स्‍वास्‍थ्‍य खर्च के मामले में भी चीन-अमेरिका बहुत आगे
पिछले बजट में भारत सरकार ने स्वास्थ्य के लिए 64,999 करोड़ रुपए का आवंटन किया था. इस समय भारत की आबादी 130 करोड़ से ज्‍यादा है. हेल्‍थ बजट (Health Budget) और आबादी (Population) का अनुपात निकाला जाए तो भारत में हर व्यक्ति के स्वास्थ्य पर सालाना 500 रुपये से भी कम खर्च किए गए. इसके मुकाबले अमेरिका का हेल्थ बजट 88.66 लाख करोड़ रुपये है यानी उसका स्‍वास्‍थ्‍य खर्च ही हमारे कुल बजट से तीन गुना से ज्‍यादा है. तीन वहीं चीन अक्टूबर, 2019 तक के 10 महीने में ही हेल्‍थ पर 1.46 लाख करोड़ रुपये खर्च कर चुका है.

ये भी पढ़ें:

शाकाहारी भोजन करने वाले परिवार हर साल 10,000 रुपये से ज्‍यादा की कर रहे बचत

इकोनॉमिक सर्वे 2020: सरकार अगले 5 साल में देगी 4 करोड़ लोगों को नई नौकरियां
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज