चीन का अमेरिका को करारा जवाब, अमेरिकी सामानों पर लगाया 15% ज्यादा टैक्स

चीन का अमेरिका को करारा जवाब, अमेरिकी सामानों पर लगाया 15% ज्यादा टैक्स
अमेरिका और चीन के बीच ट्रेडिंग वार गहरा गई है. अमेरिका के 200 अरब डॉलर की वैल्यू वाले चाइनीज गुड्स पर इंपोर्ट ड्यूटी 10 फीसदी से बढ़ाकर 25 फीसदी करने का चीन ने करारा जवाब दिया है.

अमेरिका और चीन के बीच ट्रेडिंग वार गहरा गई है. अमेरिका के 200 अरब डॉलर की वैल्यू वाले चाइनीज गुड्स पर इंपोर्ट ड्यूटी 10 फीसदी से बढ़ाकर 25 फीसदी करने का चीन ने करारा जवाब दिया है.

  • Share this:
अमेरिका और चीन के बीच ट्रेड वार (Trade War) गहरा गई है. अमेरिका के 200 अरब डॉलर की वैल्यू वाले चाइनीज गुड्स पर इंपोर्ट ड्यूटी 10 फीसदी से बढ़ाकर 25 फीसदी करने का चीन ने करारा जवाब दिया है. चीन ने सोमवार को कहा कि वह 1 जून से 60 अरब डॉलर की वैल्यू के अमेरिकी प्रोडक्ट्स पर शुल्क लगाएगा. चीन के कैबिनेट टैरिफ पॉलिसी कमीशन ऑफ द स्टेट काउंसिल के एक बयान के मुताबिक, चीन अमेरिकी सामानों पर 5 फीसदी से लेकर 25 फीसदी तक शुल्क लगाएगा. (ये भी पढ़ें: खुशखबरी! ऑनलाइन सस्ते AC बेचेगी सरकार, 40% तक बिजली की होगी बचत)

मिनिस्ट्री ने एक बयान में कहा, चीन 5,140 अमेरिकी उत्पादों पर शुल्क लगाएगा. 13 मई को ट्रंप ने चेतावनी दी थी कि अगर चीन अमेरिकी उत्पादों पर शुल्क लगाता है तो चीन के साथ ट्रेड वार और बुरे स्तर पर जा सकता है.

इस तरह लगेगा यह टैरिफ
>> 2,493 आइटम्स पर 25%
>> 1,078 आइटम्स पर 20%


>> 974 आइटम्स पर 10%
>> 595 आइटम्स पर 5%

 



पिछले हफ्ते अमेरिका ने बढ़ाया था टैरिफ
इससे पहले, 10 मई को दोनों देशों के बीच ट्रेड डील की बातचीत टूट गई थी. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 200 अरब डॉलर के चीनी उत्पादों पर 25 फीसदी का शुल्क लगाया था. साथ ही ट्रंप ने अन्य 300 अरब डॉलर के चीनी उत्पादों पर इंपोर्ट शुल्क लगाने की प्रक्रिया शुरू करने का आदेश दे दिया है.

ये भी पढ़ें: ट्रंप की चीन को धमकी, 2020 में भी मैं ही जीतूंगा, अभी समझौता कर लो

ट्रंप ने अपने ट्वीट में लिखा है, मैंने चीन के प्रेसिडेंट शी ज़िनपिंग और चीन में अपने सभी दोस्तों को खुलेआम कहा कि अगर चीन डील नहीं करता है तो उसे बड़ा नुकसान उठाना होगा क्योंकि कंपनियां चीन छोड़कर दूसरे देशों में चली जाएंगी. चाइना में सामान खरीदना बहुत महंगा हो जाएगा. आपके साथ हमारी डील पूरा होने वाला था लेकिन आप पीछे हट गए.

चीन और अमेरिका की अगली बातचीत कब होगी, इसका अभी पता नहीं चल पाया है. लेकिन मुमकिन है कि जून के अंत में जापान के ओशाका में ट्रंप और ज़िनपिंग की मुलाकात हो सकती है.

ये भी पढ़ें: 50 हजार रुपये में शुरू करें ये बिजनेस, सरकार देगी 90 फीसदी तक लोन

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज