Home /News /business /

china is going to drastically increase its defense budget amidst the russia ukraine war pmgkp

रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच चीन अपने रक्षा बजट में भारी बढ़ोतरी करने जा रहा, जानिए डिटेल

 china defense budget

china defense budget

चीन ने शनिवार को अपने रक्षा बजट में 7.1 प्रतिशत की वृद्धि कर 230 अरब डॉलर करने का प्रस्ताव किया है. यह पिछले साल के 209 अरब डॉलर के मुकाबले 21 अरब डॉलर अधिक है. इस वृद्धि के साथ चीन का रक्षा बजट भारत के रक्षा बजट (लगभग 70 अरब डॉलर) के मुकाबले तीन गुना हो गया है.

अधिक पढ़ें ...

बीजिंग . रूस-चीन युद्ध का असर पूरी दुनिया पर दिखने लगा है. अब दूसरे देशों के रक्षा बजट पर भी इसका असर देखने को मिल रहा है. अब चीन भी अपने रक्षा बजट में भारी बढ़ोतरी करने जा रहा है. चीन ने शनिवार को अपने रक्षा बजट में 7.1 प्रतिशत की वृद्धि कर 230 अरब डॉलर करने का प्रस्ताव किया है. यह पिछले साल के 209 अरब डॉलर के मुकाबले 21 अरब डॉलर अधिक है.

सरकारी अखबार ‘चाइना डेली’ ने प्रधानमंत्री ली केकियांग द्वारा नेशनल पीपुल्स कांग्रेस (एनपीसी) में शनिवार को पेश मसौदा बजट के हवाले से बताया कि चीन की सरकार ने वित्त वर्ष 2022 के लिए 1.45 खरब (ट्रिलियन) युआन के रक्षा बजट का प्रस्ताव किया है. यह पिछले साल के मुकाबले 7.1 प्रतिशत अधिक है.

भारत से तीन गुना

इस वृद्धि के साथ चीन का रक्षा बजट भारत के रक्षा बजट (लगभग 70 अरब डॉलर) के मुकाबले तीन गुना हो गया है. पिछले साल चीन का रक्षा बजट 200 अरब डॉलर के पार गया था. चीन ने वित्त वर्ष 2021 में अपने रक्षा बजट में 6.8 प्रतिशत की वृद्धि की थी जिससे उसका कुल रक्षा बजट 209 अरब डॉलर हो गया था.

यह भी पढ़ें- Upcoming IPO: फेसबुक के निवेश वाली मीशो IPO लाने की कतार में, जानिए कंपनी का बिजनेस

चीनी प्रधानमंत्री ने संसद में पेश कार्य रिपोर्ट में ‘‘पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) की युद्ध तैयारी को वृहद तरीके से मजबूत’ करने पर जोर दिया.’’ चीन द्वारा रक्षा बजट में वृद्धि का प्रस्ताव भारत के साथ पूर्वी लद्दाख में गतिरोध और अमेरिका के साथ बढ़ते राजनीतिक और सैन्य तनाव के बीच आया है. अमेरिका के बाद चीन रक्षा बजट पर खर्च करने के मामले में दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश है.

भारत का रक्षा बजट

इस साल यानि 2022-23 का कुल रक्षा बजट करीब 5.25 लाख करोड़ रुपए है. पिछले साल यानि 2021-22 का कुल रक्षा बजट था 4.78 लाख करोड़ रुपए. इस साल के रक्षा बजट में सेनाओं (थलसेना, वायुसेना और नौसेना) के नए हथियार, सैन्य साजो सामान और अन्य आधुनिकिकरण के लिए कुल कैपिटल-आउटलेय (पूंजीगत व्यय) रखा गया है 1.52 लाख करोड़ रुपए. ये कैपिटल आउटलेय पिछले साल के मुकाबले करीब 12 प्रतिशत ज्यादा है. पिछले साल पूंजीगत व्यय था 1.35 लाख करोड़ रुपए.

Tags: China, China Army, China news, India china issue

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर