चीन का विनिर्माण क्षेत्र अप्रैल में बढ़ा लेकिन वृद्धि रह सकती है धीमी

चीन

चीन

चीन के विनिर्माण क्षेत्र में अप्रैल माह के दौरान वृद्धि रही लेकिन कोरोना वायरस महामारी के बाद अर्थव्यवसथा में आई तेजी के बावजूद वृद्धि दर धीमी रह सकती है.

  • Share this:
नई दिल्ली. चीन के विनिर्माण क्षेत्र में अप्रैल माह के दौरान वृद्धि रही लेकिन कोरोना वायरस महामारी के बाद अर्थव्यवसथा में आई तेजी के बावजूद वृद्धि दर धीमी रह सकती है. दो सर्वेक्षणों में शुक्रवार को यह दिखाया गया है. बिजनेस मैगजीन केक्सिन द्वारा जारी मासिक पर्चेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स मार्च के 11 माह के निचले स्तर 50.6 के मुकाबले अप्रैल में बढ़कर 51.9 पर पहुंच गया. यह आकलन 100 अंक के पैमाने पर किया गया है. इसमें आंकड़ा यदि 100 से ऊपर होता है तो उसका मतलब यह होता है कि गतिविधियों में विस्तार हो रहा है.

वहीं चीन की सोख्यिकी एजेंसी और एक उद्योग समूह के अलग सर्वेक्षण में विनिर्माण क्षेत्र का सूचकांक 0.8 अंक गिरकर 51.1 पर आ गया. हालांकि, गिरावट के बावजूद यह 50 अंक से ऊपर बना हुआ है जिसका तात्पर्य यह है कि गतिविधियों में विस्तार हो रहा है. इसमें उत्पादन से जुड़ा एक उप सूचकांक 1.7 अंक गिरकर 52.2 पर आ गया.

ये भी पढ़ें : क्या आप जानते हैं दुनिया की सबसे पुरानी शराब के बारे में, जून में लगेगी इसकी बोली, जानिए कितनी होगी कीमत 

केपिटल इकोनोमिक्स के जुलियंस इवांस प्रित्चार्ड ने एक रिपोर्ट में कहा कि इससे यह पता चलता है कि इस साल आर्थिक वृद्धि की गति में कमी आयेगी. रिपोर्ट के मुताबिक चीन की विनिर्माण और उपभोक्ता खर्च महामारी पूर्व के स्तर पर पहुंच गई, लेकिन सुधार की गति धीमी है. वर्ष 2021 के पहले तीन माह में इससे पिछली तिमाही के मुकाबले 0.6 प्रतिशत की वृद्धि रही.
अप्रैल माह के सर्वेक्षण में नये निर्यात आर्डर का उप सूचकांक 0.8 अंक गिरकर 50.4 अंक रह गया. यह सर्वेक्षण सांख्यिकी ब्यूरो और चाइना फेडरेशन आफ लाजिस्टिक्स एण्ड एम्प ने किया जिसमें खरीदारी में गिरावट दर्ज की गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज