चीन को लगा बड़ा झटका! करेंसी युआन में 11 साल की सबसे बड़ी गिरावट

News18Hindi
Updated: August 26, 2019, 11:36 AM IST
चीन को लगा बड़ा झटका! करेंसी युआन में 11 साल की सबसे बड़ी गिरावट
अमेरिका और चीन (USA-China) के बीच लंबे समय से चल रहे ट्रेड वॉर (Trade War) से अब दोनों देश पर असर दिखने लगा है. सोमवार को चीन की करेंसी युआन (China Currency Yuan) 11 साल के निचले स्तर पर आ गई है.

अमेरिका और चीन (USA-China) के बीच लंबे समय से चल रहे 'ट्रेड वॉर' (Trade War) से अब दोनों देश पर असर दिखने लगा है. सोमवार को चीन की करेंसी युआन (China Currency Yuan) 11 साल के निचले स्तर पर आ गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 26, 2019, 11:36 AM IST
  • Share this:
अमेरिका और चीन (USA-China) के बीच लंबे समय से चल रहे 'ट्रेड वॉर' (Trade War) का अब दोनों देश पर असर दिखने लगा है. चीन की करेंसी युआन (China Currency Yuan) सोमवार को 11 साल के निचले स्तर पर पहुंच गई. एक अमेरिकी डॉलर (US Dollar) के मुकाबले युआन 7.1487 पर आ गया है. वहीं, चीनी शेयर बाजार के प्रमुख इंडेक्स शंघाई (Shanghai Composite) कंपोजिट और हांग कांग के प्रमुख इंडेक्स हैंगसैंग (Hang Seng) में 2.5 फीसदी की बड़ी गिरावट आ गई है. इस दौरान हैंगसैंग 800 अंक टूट गया. आपको बता दें कि दोनों ही देश एक दूसरे के हर संभव नुकसान पहुंचाने की जुगत में लगे हैं. इसी कड़ी में चीन ने अमेरिका को नुकसान पहुंचाने के इरादे अपनी करेंसी युआन का अवमूल्यन कर दिया. इससे अंतरराष्ट्रीय मार्केट में बाकी देशों के मुकाबले चीनी प्रोडक्ट की कीमत कम हो गई.

ये भी पढ़ें-RBI के खजाने से सरकार को जल्द मिल सकते हैं लाखों करोड़ों रुपये

ट्रंप के फैसले से आई करेंसी में गिरावट
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को ट्वीट कर बताया कि वह चीन की करीब 250 अरब डॉलर की वस्तुओं पर टैरिफ यानी आयात शुल्क 25 से बढ़ाकर 30 फीसदी कर देंगे. उन्होंने कहा कि इसके अलावा करीब 300 अरब डॉलर की अन्य चीनी वस्तुओं पर भी टैरिफ 10 से बढ़ाकर 15 फीसदी किया जाएगा.



250 अरब डॉलर की वस्तुओं पर 30 फीसदी टैरिफ 1 अक्टूबर से लागू होगा. इसी तरह 300 अरब डॉलर वस्तुओं पर टैरिफ 1 सितंबर और 15 दिसंबर से प्रभावी होगा.

इस जवाब में चीन ने भी बड़ा फैसला लेते हुए 75 अरब डॉलर के अमेरिकी उत्पादों पर टैरिफ बढ़ा दिया था जिसके जवाब में अमेरिका ने यह कार्रवाई की.
Loading...

क्या अमेरिकी कंपनी चीन से अपना कारोबार खत्म करेंगी- अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने तो यहां तक आदेश दे दिया कि अमेरिकी कंपनियां चीन से अपना कामकाज समेटकर कहीं और ले जाएं, इससे अमेरिकी शेयर बाजारों में शुक्रवार को भारी गिरावट आ गई.



दुनियाभर के शेयर बाजार में मचा हाहाकार- अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के ट्विट के तुरंत बाद अमेरिकी शेयर बाजार के प्रमुख बेंचमार्क इंडेक्स डाओ जोंस 623 अंक और नैस्डैक 3 फीसदी तक गिरकर बंद हुआ.

एशियाई बाजारों में चीन, जापान कोरिया और भारतीय शेयर बाजार में भी तेज गिरावट देखने को मिल रही है.

ये भी पढ़ें-1 सितंबर से बदल जाएंगे आपकी जेब से जुड़े ये नियम!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 26, 2019, 10:17 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...