• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • ज‍ितने बच्‍चे होंगे, उतने पैसे म‍िलेंगे! चीन का यह शहर अब हर महीने प्रति बच्चा देगा कैश, जानें यह नियम

ज‍ितने बच्‍चे होंगे, उतने पैसे म‍िलेंगे! चीन का यह शहर अब हर महीने प्रति बच्चा देगा कैश, जानें यह नियम

 जो चीन के इस शहर में जाकर बसेगा जैसे कि योग्य शीर्ष शोधकर्ताओं, शिक्षकों, चिकित्सा पेशेवरों और उद्यमी, सरकार उन्हें भी बोनस देगी.

जो चीन के इस शहर में जाकर बसेगा जैसे कि योग्य शीर्ष शोधकर्ताओं, शिक्षकों, चिकित्सा पेशेवरों और उद्यमी, सरकार उन्हें भी बोनस देगी.

जो चीन के इस शहर में जाकर बसेगा जैसे कि योग्य शीर्ष शोधकर्ताओं, शिक्षकों, चिकित्सा पेशेवरों और उद्यमी, सरकार उन्हें भी बोनस देगी.

  • Share this:

    नई दिल्ली. चीनी का एक शहर बच्चे के जन्म (Child Birth) को प्रोत्साहित करने के लिए नकद देने (Cash) का फैसला किया है. बता दें कि देश में पहली बार तेजी से बढ़ने वाली आबादी अपनी जन्म दर को बढ़ावा देने के लिए संघर्ष कर रहा है.

    चीनी सिचुआन के दक्षिण-पश्चिमी प्रांत में पंजिहुआ शहर (Panzhihua city) की सरकार ने बुधवार को घोषणा करते हुए कहा कि वह स्थानीय परिवारों को हर महीने 500 युआन (77 डॉलर) प्रति बच्चा देगी.

    कई अन्य सुविधाएं भी मिलेंगी
    रिपोर्ट के अनुसार, अपने इस्पात उद्योग(steel industry)के लिए जाने जाने वाले 1.2 मिलियन लोगों का यह शहर स्थानीय घरेलू पंजीकरण वाली माताओं को मुफ्त प्रसव सेवाएं प्रदान करेगा और कार्यस्थलों के पास अधिक नर्सरी स्कूल स्थापित करेगा. मई में सभी विवाहित जोड़ों को तीन बच्चे पैदा करने की अनुमति देने के निर्णय के बाद, चीनी सरकार ने इस महीने की शुरुआत में 2025 तक बच्चे के जन्म, पालन-पोषण और शिक्षा की लागत में मदद करने का वादा किया है. रिपोर्ट के अनुसार, शहर योग्य शीर्ष शोधकर्ताओं, शिक्षकों, चिकित्सा पेशेवरों और उद्यमियों को नकद बोनस भी देगा, जो वहां बसने का फैसला करते हैं.

    ये भी पढ़ें- HBD JRD Tata: कहानी भारत के पहले कॉर्मिशयल पायलट की जिनके बदौलत देश को मिली Air India

    चीन में घट रहा है प्रजनन दर
    कोविड -19 महामारी की अनिश्चितताओं के बीच पिछले साल लगभग छह दशकों में चीन के नए जन्म अपने सबसे निचले स्तर पर आ गए. ब्लूमबर्ग इकोनॉमिक्स के अनुमानों के अनुसार, यह इस संभावना की ओर इशारा करता है कि देश की जनसंख्या, वर्तमान में 1.41 बिलियन, 2025 से पहले घटने लगेगी. बता दें कि आबादी के मामले में चीन दुनिया में पहले नंबर पर है. बढ़ती जनसंख्या पर रोक लगाने के लिए कुछ साल पहले तक यहां सख्त नियम लागू किए गए थे जिसके बाद वहां प्रजनन दर में बेहद कमी आई. इसमें सुधार के लिए अब चीनी सरकार आए दिन बच्चों के जन्म को लेकर नागरिकों को प्रोत्साहित कर रही है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज