Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    Chinese Diwali! दिल्ली के सदर बाज़ार में देसी पैकिंग में बिक रही हैं चीन में बनी झालर

    दिल्‍ली में दुकानदार लोकल पैकेजिंग में चीन की झालरें बेच रहे हैं.
    दिल्‍ली में दुकानदार लोकल पैकेजिंग में चीन की झालरें बेच रहे हैं.

    दिल्‍ली के बड़े होलसेल मार्केट सदर बाज़ार की लाइट मार्केट यानि पान मंडी बाज़ार में दुकानदार चीन में बनी लाइट्स (Chinese Lights) देसी पैकिंग में बेच रहे हैं. वहीं, कुछ दुकानदार देसी एडाप्‍टर लगाकर चीनी झालरों को भारतीय बताकर बेच रहे हैं.

    • News18Hindi
    • Last Updated: November 3, 2020, 9:37 PM IST
    • Share this:
    नई दिल्ली. रोशनी और खुशियों के त्योहार दिवाली (Diwali Festival) की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं. दिवाली के लिए तमाम सामान भी बाज़ारों में बिकने शुरू हो गए हैं. दिल्ली का सबसे बड़ा थोक करोबार का सदर बाज़ार भी दिवाली के लिए तैयार है. साथ ही सदर बाज़ार की लाइट मार्केट यानि पान मंडी बाज़ार भी तैयार है. बाज़ार में हर तरफ़ झालरें और फूलों की लड़ियां नज़र आ रही हैं. घर सजाने का साजो सामान भी पूरी तरह से भरा हुआ है, लेकिन कैट (CAIT) के साथ ही तमाम व्यापारिक संगठनों के स्वदेशी सामान (Local Products) के साथ दिवाली के नारे बेमानी नज़र आ रहे हैं. जब न्यूज़18 इंडिया संवाददाता ने बिजली की झालर के एक डिब्बे को उठाकर देखा तो देसी पैकिंग (Local Packaging) में चीन की बनी झालर (Chinese Lights) रखकर बेची जा रही थी.

    माल आ चुका है, इसलिए देसी पैकिंग में बेच रहे हैं चीन का माल
    देसी पैकिंग में चीन का बना सामान बेचे जाने के बारे में जब फेडरेशन ऑफ़ सदर बाज़ार ट्रेड एसोसिएशन के अध्यक्ष राकेश कुमार यादव से बात की गई तो उन्होंने बताया कि दिवाली के ऑर्डर पिछले साल नवंबर में ही दे दिए गए थे. इसके चलते माल फ़रवरी 2020 तक आ गया था. साथ ही जिन भारतीय कंपनियों को बिजली की झालरें बनाने का ऑर्डर दिया गया था, उन्होंने वक्त पर सामान की डिलीवरी नहीं दी है. दूसरी बात यह कि उनके दाम भी सस्ते नहीं हैं. इसी के चलते देसी डिब्‍बों में चाइनीज़ झालरें बिक रही हैं.


    ये भी पढ़ें- चीन भारत में भेज रहा खतरनाक पटाखे-लाइट्स, फैलाएंगे अस्‍थमा-नेत्र रोग, जानें पूरा सच



    चाइनीज झालरों को इंडियन बनाने के लिए यह भी कर रहे कारोबारी
    चाइनीज झालरों के बारे में एक और बड़ा खुलासा करते हुए सदर बाज़ार के एक दुकानदार ने बताया कि दिवाली के लिए बिजली की झालरें चीन से बनकर आ रही हैं. ये वो झालरें हैं जिनके साथ एडप्टर नहीं हैं. अब इस चीन की बनी झालर को इंडियन बनाने के लिए उसमे इंडिया का बना एडप्टर लगा दिया जाता है. इसके बाद इस झालर को ग्राहक भारत की बनी समझकर आसानी से ले जाता है.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज